सूरत में लोगों की थोडी सी भी लापरवाही से हो सकती है कोरोना की गंभीर परिस्थितिः मनपा आयुक्त

सूरत मनपा आयुक्त बंछा निधि कोरोना संक्रमण की जानकारी देते हुए

शहर में लगातार बढ़ रहा कोरोना संक्रमण में पिछले कुछ दिनों से काबु पाने का प्रयास किया जा रहा है मगर लोगो की थोडी सी भी लापरवाही कोरोना की गंभीर परिस्थिति का निर्माण कर सकती है।

कोरोना पोजिटिव और मृतकों की संख्या में संख्या में धीरे धीरे कम हो रही है
सूरत शहर में पिछले पांच दिनों से कोरोना वयारस से संक्रमितों की संख्या में और कोरोना से मौत का आंकडा धीरे धीरे कम हो रहा है मगर इस दौरान लोगों की थोडी सी भी लापरवाही ‌दिखाई तो शहर के लिए फिर से गंभीर परिस्थिति होगी ऐसी जानकारी मनपा आयुक्त ने दी। 
शहर में पिछले एक महिने के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के रेकोर्डब्रेक केस दर्ज हुए। शहर के हर क्षेत्र , हर मोहल्ला , हर सोसायटी, हर एपार्टमेन्ट से कोरोना के केस मिले। शहर की परिस्थिति इतनी गंभीर हुई की निजि अस्पतालों में बेड मिलना मुश्केल हो गया। सरकारी अस्पतालों को ऑक्सिजन की कमी के कारण नए मरीजों को भर्ती पर कुछ समय के लिए रोक लगानी पडी। लगातार कोरोना संक्रमण के आंकडे बढ़ रहे थे,पिछले पांच दिनों से शहर में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थोडी कम हुई है। कोरोना से मृतकों की संख्या भी धीरे धीरे कम हो रही है। 
सूरत महानगरपालिका आयुक्त बंछा निधि पानी ने जानकारी देते हुए कहा कि शहर में कोरोना का पोजिटिवीटी रेट जो पिछले सप्ताह में 26 से 27 प्रतिशत था वह आज घटकर 10 प्रतिशत हो गया है। सिविल और स्मीमेर अस्पताल में ओपीडी मरीजों में भी कमी दर्ज हो रही है। 108 इमरजन्सी को हररोज औसतन 340 फोन कोल आते थे जो घटकर अब 100 के आसपास हो गए है। 
मनपा आयुक्त ने शहर में पिछले सप्ताह के मुकाबले कोरोना संक्रमण कम होने के बारे में महत्वपुर्ण जानकारी देते हुए कहा कि माईक्रो कन्टेनमेन्ट पोलिसी के आधार पर कोरोना संक्रमण को काबु में लाया गया। शहर में आरटी-पीसीआर रिपोर्ट में चार गुणा वृध्दि हुई है। मनपा और पुलिस संयुक्त रुप से शहर में गाईडलाईन के पालन की कार्यवाही कर रहे है। कोरोना पोजिटिव मरीज के संपर्क में आनेवाले लोगों का टेस्टींग बढ़ाया गया है। शहर में व्यावसायिक गतिविधियों पर रोक लगाने के साथ वैक्सीनेशन बढ़ाया जा रहा है। 
मनपा आयुक्त बंछा निधि पानी ने शहरवासियों को कडा मेसेज देते हुए कहा कि कोविड गाईडलाईन का पालन, मास्क पहनना, सामाजिक दुरी और वैक्सीन के कारण आज कोरोना संक्रमण की रफ्तार थोडी कम हुई है इसमें अगर शहरवासी थोडी सी भी लापरवाही करते है तो दुबारा शहर में कोरोना की गंभीर परिस्थिति होने से कोई नही रोक सकता। शहरवासी प्रशासन को सहकार करे और कोविड गाईडलाईन का पालन करे तो जल्द से जल्द कोरोना संक्रमण काबु में आ सकता है, जिसका प्रयास जारी है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें