शीना बोरा हत्याकांड : जानिए कौन हैं इंद्राणी मुखर्जी, जिसने कराई अपनी ही बेटी की हत्या

पिछले 7 साल से मुंबई की जेल में बंद इंद्राणी को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी

सुप्रीम कोर्ट ने शीना बोरा हत्याकांड में मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को बड़ी राहत देते हुए पिछले 7 साल से मुंबई की जेल में बंद इंद्राणी को जमानत दे दी है। बता दें कि शीना वोरा इंद्राणी मुखर्जी ने 10 साल पहले अपनी बेटी शीना वोरा की हत्या करवाई थी। जिसके लिए पुलिस ने उन्हें 2015 में गिरफ्तार किया था। इस सुनवाई के दौरान इंद्राणी मुखर्जी के की ओर से उपस्थित वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि आरोपी इंद्राणी धारा 437 के तहत विशेष छूट की हकदार हैं।
बता दें कि इंद्राणी मुखर्जी अगस्त 2015 में गिरफ्तार किए जाने के बाद से मुंबई की बायकुला महिला कारागार में बंद है। विशेष सीबीआई अदालत ने भी इंद्राणी को जमानत देने से कई बार मना कर दिया था। अपनी बेटी शीना की हत्या के आरोप में इंद्राणी मुखर्जी पर 24 अप्रैल 2012 से ट्रायल चल रहा है। सीबीआइ 2012 से इस मामले की जांच कर रही है। इंद्राणी पर आरोप है कि उन्होंने शीना की गला दबाकर हत्या कर दी थी और शव को रायगढ़ जिले के एक जंगल में दफना दिया था। जांच एजेंसियों का दावा था कि उन्हें शीना बोरा के अवशेष भी मिले हैं।
5 शादियां करने वाली इन्द्राणी मुखर्जी की बात करें तो आईएनएक्स मीडिया की सीईओ रहीं इंद्राणी मुखर्जी उर्फ परी बोरा ने कई चैनल लांच किए। उनके पति पीटर मुखर्जी ने 2007 में 9X चैनल शुरू किया था। इस कंपनी में वे खुद चेयरमैन बने और इंद्राणी को सीईओ बनाया था। इंद्राणी की पहली शादी खुद से दोगुने बड़े एक वकील से हुई थी। उस वक्त इंद्राणी की उम्र 16 साल थी और वो सेंट मैरी स्कूल में पढ़ती थी। कुछ साल बाद इंद्राणी ने ये रिश्ता तोड़ दिया और शिलॉन्ग स्थित लेडी क्वीन कॉलेज में पढ़ाई के लिए चली गई। यहां उसने सिद्धार्थ दास से दूसरी शादी की। लेकिन ये शादी भी ज्यादा दिनों तक नहीं टिकी। कुछ दिनों बाद इंद्राणी की मुलाकात साहिल नाम के शख्स से हुई। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली। हालांकि, साहिल से भी इंद्राणी का रिश्ता ज्यादा नहीं चला। इसके बाद इंद्राणी ने अपना गुवाहाटी का कामकाज छोड़ दिया और कोलकाता चली आई। यहां एक प्राइवेट कंपनी में काम शुरू कर दिया। यहीं उसकी मुलाकात कारोबारी संजीव खन्ना से हुई और कुछ ही दिनों बाद दोनों ने शादी कर ली। कुछ दिनों बाद इंद्राणी का मन संजीव से भी भर गया तो उसने जॉब और संजीव दोनों को छोड़ मुंबई में स्टार इंडिया में बतौर एचआर कंसल्टेंट काम शुरू कर दिया। यहां इंद्राणी की मुलाकात स्टार इंडिया के तत्कालीन सीईओ पीटर मुखर्जी से हुई। बाद में दोनों ने 2002 में शादी कर ली।
इस हाई प्रोफाइल मर्डर केस की सीबीआई ने भी जांच की, लेकिन यह केस आज भी अनसुलझा है। यह एक ऐसी मर्डर मिस्ट्री है, जिसका रहस्य आज तक सामने नहीं आया। पिछले साल इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई को पत्र लिखकर दावा किया था कि शीना बोरा जिंदा है और कश्मीर में है। इस दावे ने सभी को चौंका दिया था। इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई निदेशक को बताया था कि उनकी बेटी जिंदा है और वह इस वक्त कश्मीर में है, जांच एजेंसी उसकी तलाश शुरू करे। तीन साल तक पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी रही, लेकिन कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगा। 2015 में पुलिस को ड्राइवर के खुलासे से केस सुलझाने में मदद मिली थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें