राजकोट : एलआरडी तथा पीएसआई की भर्ती में पैसे लेकर पास करवाने के आरोप में प्रेमी दंपत्ति को हिरासत में लिया गया

पिछले दिनों गुजरात में हेड क्लर्क के पेपर लीक होने की घटना के बाद हाल ही में राजकोट शहर में एलआरडी और पीएसआई की भर्ती प्रक्रिया में पैसे लेकर पास करने के बहाने कई उम्मीदवारों से लाखो रुपए की ठगी की होने का मामला सामने आया है। शहर में मंत्री की भतीजी होने का दावा कर रही एक युवती ने एक नहीं बल्कि 12 लोगों को अपने जाल में फंसाकर करीब 15 लाख रुपये की रंगदारी की है।

गांधीग्राम पुलिस ने जेनीश परसाना नाम के कृष्णा भराड़वा नामक प्रेमी युगल को हिरासत में लिया है। आरोपी कृष्णा टाटा जेनीश ने बिना किसी परीक्षा के 12 लोगों को सीधी भर्ती का लालच दिया और कुल रु. 15 लाख जब्त किए।
गांधीग्राम पुलिस को आशीष सियाराम भगत नाम के एक व्यक्ति से इसकी शिकायत मिली थी। जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की है। पुलिस के अनुसार, कृष्णा ने खुद को मंत्री की भतीजी के रूप में बताकर भर्ती बोर्ड से सीधा संपर्क होने का दावा किया था। इसके बाद कृष्णा और जेनिश ने मिलकर 10 उम्मीदवारों के पास कुल 11 लाख और अन्य 2 उम्मीदवारों के 4 लाख मिलाकर कुल 15 लाख का चूना लगाया था। इसी तरह पैसे देने वाले आशीष का नाम जब भर्ती को सूची में नहीं आया तो उसने पुलिस में धोखाधड़ी का मामला।दर्ज किया। पुलिस ने तुरंत ही कार्यवाही की और दोनों के विदेश भागने के पहले ही उन्हें हिरासत में ले लिया।
दोनों आरोपियों ने मिलकर तीन युवतियों सहित 12 लोगों को चूना लगाया था। जिस पर भर्ती बोर्ड के हसमुख पटेल ने फिर एक बार ia तरह के लोगों से दूर रहने को हिदायत दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें