राजकोटः पति को कोरोना होने के बावजूद डॉ. वासंतीबेन सोलंकी कर रहीं ड्युटी

डॉ. वासंतीबेन सोलंकी

एक भी दिन की अवकाश लिये बिना पूरी निष्ठा के साथ काम कर रहे हैं सरदार स्वास्थ्य केन्द्र के कर्मचारी

 राजकोट जिले के सरदार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधिकारी डॉ.  वासंतीबेन सोलंकी के पति को कोरोना होने के बावजूद  वे एक दिन की छुट्टी लिए बिना नियमित रूप से अपने कर्तव्यों का पालन करती हैं। इसके अलावा, 13 अन्य कर्मचारी ओपीडी, एंटीजन टेस्ट, टीकाकरण और दैनिक स्वास्थ्य संबंधी काम संभाल रहे हैं।
कोरोना की वैश्विक महामारी से निपटने के लिए, राजकोट जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को सघन बनाकर नागरिकों को कोरोना मुक्त बनाने के लिए भरपूर प्रयास किए जा रहे हैं। राजकोट जिले के सरदार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत 13 कर्मचारी एक भी दिन की छु्टटी लिए बिना समर्पण भाव से अपना काम कर रहे हैं। 
सरदार स्वास्थ्य केंद्र में 9 उप केंद्र और 21 गांव शामिल हैं। सरदार नगर की आबादी 8200 है, जिसमें से केवल 4 स्वास्थ्य केंद्र में पंजीकृत कोरोना के सक्रिय मामले मात्र 79 ही हैं। इसका मतलब है कि सक्रिय मामलों का अनुपात एक प्रतिशत से कम है।
चिकित्सा अधिकारी डॉ.  वासंतीबेन सोलंकी ने कहा कि इस केंद्र में बुधवार को 197 ओपीडी दर्ज है। की सूचना दी। कुल 57 व्यक्तियों को कोरोना का टीका लगाया गया है। जबक‌ि 156 एंटीजन  परीक्षण किया गया है, जिसमें से 29 व्यक्तियों के सकारात्मक  आने पर  उन्हें कोरोना औषधि और आइसोलेशन किट दिया गया है। बुधवार को सकारात्मक आने  वाले सभी रोगियों में कोरोना के हल्के लक्षण थे, जिससे एक भी मरीज को राजकोट सिविल अस्पताल में रेफर करने की जरुरत नहीं पड़ी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें