गुजराती पर्यटकों के लौटने पर राज्य की सीमा पर ही RT-PCR जांच की व्यवस्था होनी चाहिए

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo: IANS)

शिरडी, महाराष्ट्र से लौट रहे पर्यटकों को हो थी दिक्कत

कोरोना के मामले बढ़ने के कारण प्रशासन ने महाराष्ट्र से गुजरात में आने वाले यात्रियों के लिए rt-pcr टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। इसके चलते नासिक-शिरडी घूमने के लिए गए लोग जब वापिस आ रहे थे तब उन्हें सापुतारा में रोक लिया गया और आरटीपीएस सर्टिफिकेट की मांग की गई लेकिन, लोगों के पास सर्टिफिकेट नहीं होने से तमाम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। स्थानीय प्रशासन की ओर से भी टेस्ट की कोई व्यवस्था नहीं की जाने से सभी लोग दुविधा में पड़ गए। राज्य में कोरोना वायरस के कारण डांग जिला प्रशासन हरकत में आ गया है।
सापुतारा पुलिस का कड़ा बंदोबस्त
सापुतारा,नाशिक सीमा पर सापुतारा पुलिस ने चुस्त बंदोबस्त लगा दिया है। आरटी पीसीआर टेस्ट के बिना गुजरात महाराष्ट्र सहित अन्य राज्यों में से आने वाले लोगों के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके चलते गुजरात के ही लोग जो कि नासिक और शिरडी में दर्शन के लिए गए थे वापस आते समय उनके पास आरटीपीएस सर्टिफिकेट नहीं होने के कारण उन्हें फिर से महाराष्ट्र वापस भेज दिया गया।
गुजरात का एकमात्र हिल स्टेशन सापुतारा (Photo Credit : twitter@instagujarat / @_spy_d_93)
बड़ी संख्या में आते हैं लोग
आपको बता दें कि इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में लोग घूमने आते हैं लेकिन इन दिनों प्रशासन की अव्यवस्था के कारण लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। दूसरी और प्रशासन ने यहां लोगों की जांच के लिए कोई सेंटर भी नहीं बनाया है। इस परिस्थिति में गुजरात के लोगों को महाराष्ट्र में जाकर आरटी-पीसीआर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण लोगों को बड़ी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें