अब होगा कोरोना का खात्मा; फाइजर ने किया कोरोना की दवा बनाने का दावा

प्रतिकात्मक तस्वीर

दुनिया भर में कोरोना के कारण हर किसी का काफी बुरा हाल है। हालांकि इसी बीच अमेरिका कि दवा निर्माता कंपनी फाइजर ने एक महत्वपूर्ण दावा किया है। अमेरिकी कंपनी का कहना है कि उसने कोरोना के सभी वेरिएंट के खिलाफ कारगर एक द्व बना ली है है। कंपनी द्वारा 3 लैब स्टडी रिपोर्ट जारी कर के यह दावा किया गया। फाइजर द्वारा इस दवा का नाम पैक्सलोविड दिया गया है। जो कि शरीर में प्लाज्मा कंसेंट्रेशन बनाए रखती है।
मुख्य वैज्ञानिक अधिकारी मिकेल डोलस्टन के अनुसार, उन्होंने इस दवा को इस तरह बनाया है कि वह कोरोना के सभी वेरिएंट के खिलाफ कारगर साबित हो। डोलस्टन ने कहा कि उनके द्वारा तैयार की गई ओरल कोविड-19 थेरेपी कोरोना वाइरस और ओमिक्रोन वेरिएंट के खिलाफ काफी कारगर साबित हो सकती है। यदि वाइरस के लक्षण शुरू होने के 5 दिनों के अंदर यह दवा ले ली जाये तो मरीज के अस्पताल में भर्ती होने के या मौत के जोखिम को 90 प्रतिशत तक कम कर देती है।
दवा के बारे में जानकारी देते हुये मिकेल ने बताया कि मरीज के लिए कुल 30 गोलियों का एक सैट आएगा। जिसमें लगातार पाँच दिन तक 3 गोलियां तीन में दो बार लेनी होगी। इन 3 गोलियों में निर्माट्रेलवीर की 2 गोलियां और रिटोनवीर की 1 गोली शामिल होगी। इसमें निर्माट्रेलवीर वह होता है, जो वायरस के दोहराव से रोकने के लिए एक सार्स-सीओवी-2 प्रोटीन को रोकता है. वहीं रिटोनवीर शरीर में  निर्माट्रेलवीर के टूटने को धीमा कर देता है। फाइजर (Pfizer) का दावा है कि ट्रायल के दौरान उसकी एंटीवायरल दवा पैक्सलोविड (Paxlovid) लेने वाले 90 फीसदी से ज्यादा कोरोना मरीजों में 3 दिनों के भीतर महत्वपूर्ण सुधार देखा गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें