लाजपोर : कैदियों के पास से मोबाइल फोन मिलने का क्रम यथावत, रविवार को गटर से मिले दो फोन

लाजपोर जेल

अहमदाबाद से आये खास दस्ते ने रविवार को छापेमारी की जिसमें दो फोन मिले पर सिम और बैटरी गायब

राज्य के अत्याधुनिक जेलों में से एक और शहर की लाजपुर जेल में कैदियों के पास से मोबाइल फोन मिलने का सिलसिला जारी है। आये दिन पुलिस द्वारा जाँच में मोबाइल फोन बरामद होते रहते है। प्रदेश की सबसे आधुनिक लाजपुर सेंट्रल जेल से मोबाइल फोन लेने का चलन जस का तस बना हुआ है। ऐसे में अहमदाबाद जदाती दस्ते ने रविवार सुबह छापेमारी की। इस छापेमारी के दौरान नाले में प्लास्टिक में लिपटे दो मोबाइल फोन मिले।
आपको बता दें कि अहमदाबाद जदती दस्ते के जेलर देवाशी करंगिया के नेतृत्व में रविवार सुबह लाजपुर जेल में छापेमारी की गई। यार्ड नंबर 4 और बी/3 में तलाशी लेने के बाद यहां के गटर कुंडी में तलाशी में मोबाइल फोन मिले जिसे प्लास्टिक की थैलियों में लपेट कर रखा गया था।  पुलिस ने जब मोबाइल चेक किया तो पता चला कि उसमें से बैटरी और सिम कार्ड निकाल लिए गये थे। साथ ही फोन पर आईएमइआई नंबर भी मिटा दिए गए थे। इन दोनों मोबाइल फोन के साथ जेलर देवाशी करंगिया सचिन ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी और इनके उपयोग का पता लगाने के लिए इन्हें एफएसएल भेजने का प्रावधान किया था।
गौरतलब है कि लाजपुर जेल से बंदियों को धमकाने का चलन एक तरफ है, वहीं स्थानीय जेल में अवैध मोबाइल फोन के इस्तेमाल को रोकने के लिए अहमदाबाद का दस्ता भी मैदान में उतर आया है। कुछ दिन पहले हुई छापेमारी में एक मोबाइल फोन और एक सिम कार्ड समेत सात सामान बरामद हुआ था। मोबाइल फोन मिलने की लगातार घटनाएं जेल प्रशासन पर भी कई सवाल खड़े कर रही हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें