कोरोना संकट काल में जरूरतमंदों की हर संभव मदद करें, इस युवा दिव्यांग धर्मेश से सीख लें!

समाजसेवी धर्मेश काछेला (Photo Credit : Sandesh.com)

वर्तमान कोरोना संकट काल में समाज के हर वर्ष को आगे आकर जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिये। न सिर्फ सामाजिक स्तर पर, बल्कि व्यक्तिगत स्तर भी कोई चाहे तो मदद का हाथ बढ़ा सकता है। ठीक वैसे ही जैसे मुंबई में अभिनेता सोनू सूद ने देश ही नहीं दुनिया के कई देशों में जरूरत मंदों को मदद पहुंचाई है। लेकिन मदद करने में कोई छोटा या बड़ा नहीं होता। इसी का उदाहरण है गुजरात के राजकोट का युवा दिव्यांग धर्मेश काछेला।
धर्मेश अपने बूते पर राजकोट में जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। वे कहते हैं कि वे इस सेवा यज्ञ में सिर्फ एक सेतु का काम कर रहे हैं। उनके अनुसार उनके साथ लगभग 3500 रक्तदाता जुड़े हुए हैं। जब किसी जरूरतमंद को प्लाज्मा या रक्त की जरूरत पड़ती है, वे अपडे डेटाबेस से मरीज और डोनर का संपर्क करवा देते हैं और इस प्रकार समय रहते मदद पहुंच जाती है। 
प्रतिकात्मक तस्वीर(Photo Credit : pixabay.com)
बता दें कि धर्मेश शहर के सहयोग विकलांग चेरीटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी हैं और दोनों पैरों से 85 प्रतिशत डिसेबल हैं। लेकिन इससे उनके दूसरों को मदद करने के जज्बे में कोई कमी नहीं आती। अब तक वे 40 कोरोना मरीजों को प्लाज्मा डोनेशन की व्यवस्था करवा चुके हैं। अपनी संस्था के माध्यम से वे अब तक 1500 से अधिक रक्त बोतलों की व्यवस्था में सहयोग कर चुके हैं। कोरोना काल में 100 से अधिक लोगों को ब्लड डोनेशन में मदद करवा चुके हैं। इतना ही नहीं कभी किसी मरीज को ऑक्सिजन बैड और वैन्टिलेटर किराये पर चाहिये होता है तो उसका भी सप्लायर के साथ संपर्क करवा देते हैं। सलाम है ऐसे कोरोना वॉरियर्स को।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें