व्हाट्सएप की गोपनीयता नीति स्वीकार नहीं की तो लिमिटेड फिचर्स से ही काम चलाना पड़ सकता है!

(File Photo: IANS)

नई दिल्ली, 8 मई (आईएएनएस)| अपनी आगामी गोपनीयता नीति को लेकर आलोचना का सामना कर रहे व्हाट्सएप ने कहा है कि उपयोगकर्ताओं के व्हाट्सएप अकाउंट को 15 मई से कोई समस्या नहीं आएगी और करटेल्ड फंक्शंस का सामना नहीं करेंगे, अगर वे समय तक नए मानदंडों को स्वीकार करने में विफल रहते हैं तो उन्हें बाद में सीमित कार्यों से गुजरना होगा। भारत में 400 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं के साथ दो अरब से ज्यादा उपयोगकर्ताओं के साथ फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म ने चेतावनी दी थी कि नई नीति को स्वीकार करने में विफल रहने के परिणामस्वरूप उपयोगकर्ताओं को 'लगातार रिमाइंडर' के बाद कुछ कार्यक्षमता खोनी पड़ेगी।
व्हाट्सएप ने एफएक्यू में कहा, "हर किसी को समीक्षा करने का समय देने के बाद, हम उन लोगों को याद दिलाना जारी रखते हैं जिन्हें समीक्षा और स्वीकार करने का मौका नहीं मिला है। कई हफ्तों की अवधि के बाद, अनुस्मारक प्राप्त करने वाले लोग स्थायी हो जाएंगे। "
लगातार अनुस्मारक के बाद, उपयोगकर्ता अपडेट स्वीकार करने तक व्हाट्सएप पर सीमित कार्यक्षमता का सामना करेंगे।
एक ही समय में सभी उपयोगकतार्ओं के लिए यह नहीं होगा। सीमित कार्यक्षमता के कुछ हफ्तों के बाद, आप इनकमिंग कॉल या सूचनाएं प्राप्त नहीं कर पाएंगे और व्हाट्सएप आपके फोन पर संदेश और कॉल भेजना बंद कर देगा।
हालांकि, अगर आप अपडेट स्वीकार नहीं करते हैं, तो व्हाट्सएप आपके खाते को नष्ट नहीं करेगा। कंपनी ने सूचित किया, "15 मई को व्हाट्सएप के किसी भी खाते को नष्ट नहीं किया जाएगा औक न ही कार्यक्षमता खत्म होगी।"
पिछले कई हफ्तों से, व्हाट्सएप अपने उपयोगकर्ताओं को अपडेट के बारे में अधिक जानकारी प्रदान करने के लिए एक अधिसूचना प्रदर्शित कर रहा है। व्हाट्सएप की गोपनीयता नीति में बदलाव पर चिंता जताते हुए, केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने मैसेजिंग प्लेटफॉर्म को हाल के बदलाव को वापस लेने के लिए कहा था, साथ ही कई उद्योग समूहों ने फेसबुक के साथ व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं का डेटा साझा करने पर सवाल उठाया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें