गुजरातः तौकते तूफान ने विशाल वृक्ष को धराशायी कर दिया, लेकिन कर्मयोगियों के कर्मयोग को नहीं!

तूफान के बीच हाइवे पर गिरे विशाल वृक्ष को रात के अंधेरे में हटाते कर्मयोगी

आंधी के बीच रात के दौरान जसदण-आटकोट स्टेट हाईवे पर गिरे विशाल पेड़ को कुछ ही समय में हटाया गया

रात 2 से 3 बजे के बीच का समय.... भीषण अंधेरी रात... सड़कें सुनसान..... भारी बारिश... बारिश के साथ तेज रफ्तार से चल रही हवा.....और ऐसे भयानक समय में हाईवे पर एक विशाल पेड़ अचानक जमीन पर गिर जाता है।  पेड़ गिरने के कुछ ही समय में, जे.सी.बी. और कटर सहित उपकरण के साथ बचाव दल मौके पर पहुंच गया। बारिश-तूफान की भीषण स्थिति में भी वाहनों की लाइट चालू कर जेसीबी  और कटर से पेड़ को मुख्य सड़क से हटा कर दूर कर दिया... यह सब हमें किसी चलचित्र के दृश्य जैसा महसूस कराता है। लेकिन यह किसी  फिल्म का दृश्य नहीं है बल्कि हाल ही में सौराष्ट्र में आए तूफान "तौकते" के प्रभाव के बीच जसदण-आटकोट राजमार्ग पर 17 मई को घटा यह एक सच्ची घटना है।  
इस घटना की जानकारी देते हुए जसदण के मामलतदार पी. डी वांदा ने कहा कि 17 मई को रात्रि 2.30 बजे के करीब जसदण प्रांतीय अधिकारी प्रियांक गरचर को फोन आया कि जसदण-आटकोट स्टेट हाईवे पर बाइपास के पास बारिश और तूफान के कारण एक बड़ा पेड़ गिर गया है. जिससे रास्ता बंद हो गया है। फोन पर संदेश मिलते ही प्रांतीय अधिकारी ने जसदण नगर पालिका के मुख्य अधिकारी को इसकी सूचना दी। 
जसदण नगर पालिका के मुख्य अधिकारी  पार्थ त्रिवेदी ने तत्काल त्वरित प्रतिक्रिया टीम तैयार की और इस बादल भरी रात में अँधेरे को चीरते जेसीबी और कटर से लैस रिस्पांस टीम के जवान मौके पर पहुंचे। लेकिन बारिश और तूफान की स्थिति के साथ भीषण अंधेरा होने के कारण गिरे हुए पेड़ को हटाना मुश्किल था। तभी टीम के जवानों ने अपने वाहन की लाइट जलाकर तेज बारिश के बीच कटर व जेसीबी से काटकर मुख्य मार्ग से पेड़ हटाकर स्टेट हाईवे की इस सड़क को इस कठिन परिस्थितियों में भी  गिनती के कुछ समय में ही खोल दिया गया।
सौराष्ट्र पर आई 'तौकते' तूफान रुपी आपदा के प्रति संवेदनशील मुख्यमंत्री विजयभाई रूपाणी के प्रत्यक्ष मार्गदर्शन में जसदण प्रशासनिक विभाग के कर्मयोगी अधिकारियों ने तूफान के कारण जान-माल का नुकशान न हो इसके लिए  दिखाई प्रतिबद्धता सही मायने में सरकार की लोक सुखाकारी के साथ लोगों को आपदा से बचाने के लिए प्रतिबद्धता दर्शाती है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें