गुजरात : मंत्रियों के कार्यालयों के औचक नीरिक्षण के लिये पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल

गुजरात की राजधानी गांधीनगर स्थित सचिवायल में सोमवार को उस वक्त आश्चर्य फैल गया जब स्पर्णिम संकुल-1 में जिन मंत्रियों के कार्यालय हैं वहां के औचक नीरिक्षण के लिये स्वयं मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल पहुंच गये। बता दें कि प्रदेश में पुरानी परंपरा रही है कि हर सोमवार और मंगलवार को मंत्रिमंडल के लगभग सभी मंत्रीगण अपने सचिवायल कार्यालय पर मिलते हैं और आम जनों, सामाजिक संगठनों, विधायकों-सांसदों आदि की समस्याओं का समाधान करते हैं। 
मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने सचिवायल पहुंच कर जाना कि क्या इन दो दिनों में मंत्रीगण वास्तव में अपने कार्यालयों पर उपलब्ध रहते भी हैं या नहीं। उन्होंने वहां मौजूद आम से लेकर खास लोगों से भी पृच्छा की कि क्या उनके काम हो रहे हैं, उनकी समस्याओं का समाधान हो रहा है।
हालांकि जब मुख्यमंत्री निरीक्षण के लिये पहुंचे तब अधिकांश मंत्रीगण अपने-अपने कार्यालयों में ही मौजूद थे। फिर भी एक बार तो मुख्यमंत्री की इस पहल से सचिवालय में मौजूद आला अधिकारियों और कर्मचारियों में मानो सन्नाटा सा छा गया। जानकारी के अनुसार इस दौरान दो मंत्री अपने कार्यालय में उपलब्ध नहीं थे। इनमें सूरत पूर्व के विधायक पूर्णेश मोदी अपने विधानसभा क्षेत्र में ही पूर्व निधार्रित कार्यक्रम में व्यस्त थे। वहीं अन्य मंत्री किरीट सिंह राणा भोजन करने गये हुए थे।
बताया गया है कि प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब एक मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल के सदस्यों के कार्यालयों में इस प्रकार औचक निरीक्षण करने पहुंचे हों। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें