गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा को मिल रहा विशेष सम्मान, गणतंत्र दिवस पर मिलेगा 'परम विशिष्ट सेवा पदक'

(Photo Credit : IANS)

'परम विशिष्ट सेवा पदक' यानी पीवीएसएम भारतीय सेना का एक पदक, 1960 में हुई थी इसकी शुरुआत

टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाले नीरज चोपड़ा को एक विशेष सम्मान दिया जा रहा है. टोक्यो ओलिंपिक से विश्व भर में देश का नाम रोशन करने वाले नीरज को कल यानी गणतंत्र दिवस पर 'परम विशिष्ट सेवा पदक' (पीवीएसएम) से सम्मानित किया जाएगा। 
आपको बता दें कि 'परम विशिष्ट सेवा पदक' यानी पीवीएसएम भारतीय सेना का एक पदक है। इसकी शुरुआत 1960 में हुई थी। यह पदक उन लोगों को दिया जाता है जिन्होंने शांति और सेवा के क्षेत्र में अविश्वसनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। इस गणतंत्र दिवस पर नीरज चोपड़ा को सर्वाधिक विशिष्ट सेवा पदक से नवाजा जाएगा। आपको बता दें कि क्षेत्रीय सेना, सहायक और रिजर्व बलों, नर्सिंग अधिकारियों और नर्सिंग सेवाओं के अन्य सदस्यों और अन्य कानूनी रूप से गठित सशस्त्र बलों सहित भारतीय सशस्त्र बलों के कर्मियों के सभी रैंक इस पुरस्कार को प्राप्त करने के लिए पात्र हैं। विशिष्ट सेवा पदक मूल रूप से 26 जनवरी 1960 को 'विशेष सेवा पदक, कक्षा I' के रूप में स्थापित किया गया था। 27 जनवरी, 1961 को इसका नाम बदल दिया गया।
(Photo Credit : twitter.com)
आपको बता दें कि फिलहाल भारतीय सेना की राजपूत राइफल्स में तैनात नीरज चोपड़ा की सफलता के पीछे सेना का सहयोग सबसे महत्वपूर्ण रहा है। 2015 में, राजपुताना राइफल्स टीम ने नीरज चोपड़ा के कौशल का परीक्षण किया। उस समय नीरज केवल 17 वर्ष के थे। राजपूताना राइफल्स रेजिमेंट ने तुरंत सेना में भर्ती होने के लिए एथलेटिक्स कोच चोपड़ा की सहायता की। इसके बाद नीरज ने पोलैंड में IAAF अंडर-10 चैंपियनशिप में 86.48 मीटर भाला फेंककर इतिहास रच दिया और सेना ने तुरंत नीरज को भर्ती कर लिया। तब से लेकर अब तक नीरज चोपड़ा की ट्रेनिंग और इलाज का पूरा खर्च सेना ने वहन किया है।
टोक्यो ओलंपिक्स में नीरज के प्रदर्शन की बात करें तो ओलिंपिक में एथलेटिक्स में पदक जीतने के लिए भारत का 121 साल का इंतजार नीरज ने खत्म भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतकर ख़त्म किया। नीरज ने फाइनल में 87.58 मीटर का थ्रो फेंका और सीधे गोल्ड पर निशाना साधा। गोल्ड मेडल जीतने के बाद नीरज की पहली प्रतिक्रिया थी कि यह मेरे और देश के लिए गर्व का क्षण है। इसमें भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक का पहला स्वर्ण पदक जीतने वाले नीरज को बधाई देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉल किया था।
गौरतलब है कि टोक्यो ओलंपिक 2020 में गोल्ड मेडल जीतने वाले भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा एक बार फिर एक्शन में नजर आ रहे हैं. उन्होंने लंबे ब्रेक के बाद फिर से पेरिस ओलंपिक में गोल्ड जीतने के लिए ट्रेनिंग शुरू की है। उनके कोच ने इंस्टाग्राम पर प्रैक्टिस सेशन का एक खास वीडियो शेयर किया, जिसके कैप्शन में उन्होंने लिखा कि मेहनत और मेहनतका  कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने जिम में वर्कआउट सेशन अटेंड किया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें