कांस्य पदक विजेता पीवी संधु ने किया इन कंपनियों से मांगा 5 करोड़ का मुआवजा, जानें क्या है कारण

पी वी सिंधु

मार्केटिंग उद्देश्यों से किया बिना अनुमति बेडमिंटन स्टार की तस्वीरों का इस्तेमाल

भारत की बैडमिंटन स्टार और टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता पीवी सिंधु ने करीब 20 कंपनियों पर मुकदमा चलाने की तैयारी शुरू कर दी है। सिंधु से जुड़े सूत्रों के मुताबिक जब टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने के बाद पूरे देश ने उन्हें बधाई दी। तो कुछ कंपनियों द्वारा बिना इजाजत पीवी सिंधु के नाम और तस्वीर का इस्तेमाल कर रही हैं। सिंधु ने उनके खिलाफ कार्रवाई की धमकी दी है।
पीवी सिंधु उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई के विकल्पों पर विचार कर रही हैं। क्योंकि वह बिना सिंधु की अनुमति के उनके नाम और उनकी तस्वीरों का अपने मार्केतिग उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल कर रही थी। एक मार्केटिंग एजेंसी के मुताबिक, सिंधु ने उन कंपनियों से 5 करोड़ रुपये मुआवजे की मांग की है जो बिना उनकी इजाजत के उनके नाम और छवि का इस्तेमाल करते हैं।
सिंधु की करीब 20 कंपनियों को नोटिस जारी किए गए हैं जिनमें हापीडेंट, पान बहार, यूरेका, फोर्ब्स, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, वोडाफोन आइडिया, एमजी मोटर, यूको बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, कोटक महिंद्रा, फिनो पेमेंट बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, इंडियन बैंक और विप्रो लाइटिंग शामिल हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें