बनासकांठा : जानिए किसानों ने 8 घंटे बिजली की अपनी मांग सरकार से कैसे मनवाई

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : pipanews.com)

गुजरात के बनासकांठा में किसानों ने अपना आंदोलन खतम कर लिया है। पिछले काफी समय से इलाके के कई किसान अपने इलाकों में आठ घंटे बिजली हासिल करने के लिए पिछले कई समय से आंदोलन और विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इस विरोध प्रदर्शन के चलते UGVCL द्वारा किसानों की लिखित में आश्वासन दिया गया कि किसानों को उनकी मांग के अनुसार आठ घंटे की बिजली मुहैया करवाई जाएगी।
इसके अलावा ऊर्जा मंत्री द्वारा भी किसानों को आठ घंटे बिजली मुहैया करवाने का आश्वासन दिया था। मीडिया को दिये अपने बयान में ऊर्जा मंत्री ने बताया कि वर्तमान समय में विंड पावर की अधिकता होने के कारण सभी को आठ घंटे की बिजली मुहैया करवाई जा सकती है। उन्होंने आश्वासन दिया की अब से किसानों को पहले प्राथमिकता देकर उन्हें आठ घंटे की बिजली दी जाएगी।
बता दें कि अपनी इस मांग को सरकार से मनवाने के लिए पिछले सात दिनों से किसान सड़कों पर उतरे हुये है। इस बीच कड़ी धूप के बीच अपनी मांग को सरकार से मनवाने के लिए जगत पिता माने जाने वाले किसानों को अपनी एडी चोटी का ज़ोर लगाना पड़ा है। इसबीच कई बार पुलिस के साथ किसानों के घर्षण के समाचार भी सामने आए है। हालांकि इन सबके बाद फिलहाल UGVCL द्वारा आश्वासन दिये जाने के चलते किसानों ने अपना आंदोलन समाप्त किया है। हालांकि इसके साथ यह भी चेतावनी दी है कि यदि जल्द ही उनके खेतों तक बिजली नहीं आती है तो वह फिर से सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें