सूरत के एक और मरीज को इलाज के लिये चैन्नई एयर लिफ्ट किया गया

प्रतिकात्मक तस्वीर

कोरोना के चलते बढ़ गया था फेफड़ों का इंफेक्शन, डॉ संकेत वर्मा का इलाज करने वाले डोकटर और उनकी टीम कर रही है निरीक्षण

शहर में कोरोना की स्थिति दिन-प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है। हर दिन आने वाले केसों में इजाफा ही देखने मिल रहा है। ऐसे में शहर के अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड की कमी भी सामने आ रही है। अस्पतालों में बेड की कमी के कारण कई लोगों को मरीज का इलाज करवाने के लिए सूरत से बाहर दूसरे शहरों और राज्यों में भी भेजना पड़ रहा है। कुछ ऐसा ही एक किस्सा एक बार फिर से सामने आया है जब सूरत से किसी को एयरलिफ्ट करके इलाज के लिए चेन्नई भेजा गया हो।
विस्तृत जानकारी के अनुसार हीरा व्यापारी गोरधन रीजिया का 20 दिन पहले कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। जिसके चलते उन्हें इलाज के लिए किरण अस्पताल में भर्ती करवाया गया। किरण अस्पताल में इलाज के दौरान उन्होंने कोरोना के ऊपर तो जीत हासिल कर ली, पर कोरोना के कारण उनके फेफड़ों पर काफी ज्यादा असर हो चुकी थी। फेफड़ों में बढ़े इंफेक्शन के कारण उन्हें सूरत से शनिवार को सुबह 9:30 बजे एयर लिफ्ट कर दो घंटे के अंदर चेन्नई की एमजीएम हेल्थकेयर में भर्ती करवाया गया।
चेन्नई में फिर से वह सामान्य तौर से सांस ले सके इसके लिए उन्हें रिहैबिलिटेशन थेरेपी दी जाएगी। फिलहाल डॉ बालकृष्ण और उनकी टीम ने हीरा व्यापारी को अपने ऑब्जर्वेशन में रखा है। बता दें कि डॉ बालकृष्ण वही डॉक्टर हैं, जिन्होंने पिछले दिनों डॉक्टर संकेत शर्मा का इलाज किया था। उल्लेखनीय है कि किरण अस्पताल में इलाज के दौरान सिंपल वेंटिलेटर पर रखा गया था, जबकि स्थानीय डॉक्टरों ने थेरेपी से ही सफलता मिल जाएगी ऐसा ऐसी आशा व्यक्त की है।
इस बारे में व्यापारी के रिश्तेदार नागजी वीडिया का संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि एक अगमचेती के भाग स्वरूप गोरधनभाई को चेन्नई के इलाज के लिए ले जाया गया है। यहां पर भी उनकी स्थिति काफी अच्छे ही थे। फिलहाल चिंता की कोई बात नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें