सूरत की सभी टेक्सटाईल मार्केट और तीन दिनों तक संपुर्ण रूप से बंद रहेगीः फोस्टा

सूरत में कोरोना संकट काल के दौरान लॉकडाउन की तस्वीर

राज्य में कोरोना वायरस के साथ चक्रवात की असर के कारण राज्य सरकार सूरत सहित ३६ शहरों में रात्रि कर्फ्यू और अतिरिक्त नियंत्रणों को और तीन दिनों तक जारी रखा है।

चक्रवात की असर को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने और तीन दिन रात्रि कर्फ्यू और विशेष नियंत्रण जारी रखे
सूरत राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति के दौरान चक्रवात की असर के कारण राज्य सरकार ने सूरत सहित 36 शहरों में रात्रि कर्फ्यू और विशेष नियंत्रणों को और तीन दिनों तक बढ़ाने का निर्णय लिया है। सूरत की सभी टेक्सटाईल मार्केट 20 मई तक संपुर्ण रूप से बंद रहने का निर्णय फोस्टा ने लिया है। सभी कपडा व्यापारीओं से फोस्टा ने कहा कि गुजरात सरकार एवं स्थानिय प्रशासन के गाईडलाईन के अनुसार कपड़ा मार्केट संबंधित सूचना दी जायेगी। 
सूरत शहर में कोरोना संक्रमण की चेन रोकने के लिए 28 अप्रैल 2021 से टेक्सटाईल मार्केट संपुर्णतः बंद रही है। राज्य सरकार और पुलिस आयुक्त की अधिसूचना से सभी टेक्सटाईल मार्केट संपुर्ण रूप से बंद रखने का परिपत्र जारी हुआ था जिसका सूरत के सभी व्यापारीओं पालन किया। लगातार तीन सप्ताह तक टेक्सटाइल मार्केट संपुर्णतः बंद रही। इस दौरान राज्य में चक्रवात की असर के कारण 36 शहरों में रात्रि कर्फ्यू और अतिरिक्त नियंत्रणों को और तीन दिनों तक जारी रखने का राज्य सरकार ने निर्णय लिया है। 18 मई से 20 मई को सूबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा। राज्य सरकार के आदेश के बाद फोस्टा ने सूरत की सभी टेक्सटाईल मार्केट को आगामी 20 मई 2021 तक संपुर्ण रूप से बंद रखने का निर्णय लिया है। राज्य में चक्रवात की असर कम होने के बाद राज्य सरकार मार्केट खोलने के लिए 20 मई के बाद नई अधिसूचना जारी कर सकती है।  इस दौरान पिछले तीन सप्ताह के दौरान राज्य सरकार द्वारा कोविड गाईडलाईन और अतिरिक्त नियंत्रण लागु रहेंगे। 
उल्लेखनिय है की सूरत की सभी टेक्सटाईल मार्केट राज्य सरकार के मिनी लॉकडाउन के आदेश के बाद 28 अप्रैल से संपुर्णतः बंद रही है। मार्केट में व्यापारीक गतिविधि बंद होने से व्यापारीओं को काफि आर्थिक नुकासान उठान पडा।  राज्य में चक्रवात की असर कम होने के बाद मुख्यमंत्री आगामी मिटिंग में 20 मई के बाद मार्केट खोलने का आदेश दे सकते है। अभी 20 मई तक मार्केट संपुर्ण रूप से बंद ही रहेगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें