5-जी नेटवर्क: देश को स्वदेशी 5जी देने के लिए भारती एयरटेल और टाटा समूह ने मिलाया हाथ

(Photo : IANS)

2022 से उपलब्ध होगा मेड इन इंडिया 5जी नेटवर्क

भारत में फाइव-जी नेटवर्क समाधान को लागू करने के लिए भारती एयरटेल और टाटा समूह ने एक रणनीतिक साझेदारी की घोषणा की। दोनों कंपनियों की ओर से जारी बयान के मुताबिक, एयरटेल भारत सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन और फाइव-जी नेटवर्क प्लान जनवरी 2022 तक तक शुरुआती आधार पर लागू कर दिया जायेगा। दोनों ने घोषणा की कि भारत में फाइव-जी नेटवर्क समाधान उपलब्ध होगा। इसका मतलब है कि देश में अब विदेशी या चीनी फाइव-जी नेटवर्क नहीं बल्कि घरेलू नेटवर्क होगा।
आपको बता दें कि एक बयान में कहा गया है कि टाटा समूह ने अत्याधुनिक ओ-आरएएन आधारित रेडियो और एनएसए/एसए कोर विकसित किया है। यह कोर विशुद्ध रूप से स्वदेशी आधार पर विकसित किया गया है। इससे दोनों कंपनियों की देश में फाइव-जी नेटवर्क सॉल्यूशन को लागू करने की क्षमता बढ़ेगी। कंपनी ने कहा कि टाटा समूह ने अपनी तकनीक विकसित कर ली है। नेटवर्क व्यावसायिक उपयोग के लिए जनवरी 2022 से उपलब्ध होगा। एयरटेल जनवरी 2022 से भारत में अपना फाइव-जी नेटवर्क लॉन्च करने के लिए टाटा समूह की तकनीक का उपयोग करेगी। शुरुआत में इसे पायलट प्रोजेक्ट के जरिए लागू किया जाएगा। कंपनी का कहना है कि भारत में विकसित किए जा रहे फाइव-जी उत्पादों और समाधानों को वैश्विक मानकों को ध्यान में रखते हुए विकसित किया जा रहा है।
आपको बता दें कि भारत में विकसित किया जा रहा फाइव-जी सॉल्यूशन अगर एयरटेल के पायलट प्रोजेक्ट में सफल हो जाता है, तो स्वदेशी फाइव-जी सॉल्यूशन के निर्यात की संभावना भी बढ़ जाती है। फाइव-जी सॉल्यूशन दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा टेलीकॉम मार्केट है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें