जब पैसे कमाने के लिए शख्स ने मम्मी को बना दिया ममी, माता की पेंशन से कमाएं लाखो पैसे

प्रतिकात्मक तस्वीर

पिछले साल जून में हुई थी महिला की मौत, एक साल से भी अधिक समय तक मृत माता के नाम पर पेंशन ऐंठा

आज कलियुग के इस समय में हर कोई पैसे कमाने के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहते है। जल्द से जल्द पैसे कमाने के चक्कर में लोग अपनों को धोखा देने से भी पीछे नहीं हटते। कुछ ऐसी ही एक घटना ऑस्ट्रिया से सामने आई है। जहां एक व्यक्ति ने अपनी माँ की लाश को एक साल तक घर में छिपाकर उसे ममी बनाकर रखा था, इससे की उसकी माता को मिलने वाला पेंशन मिलता रहे। 
89 साल की इस महिला को ऑस्ट्रिया सरकार द्वारा पेंशन दिया जाता था । महिला के बेटे को डर था कि यदि उसकी माता  के मौत की खबर सामने आ जाती तो सरकार की तरफ से आने वाले पैसे बंद हो जाएँगे। इसलिए अपनी माँ की लाश को स्टोर कर लिया और उसकी पेंशन से आने वाली अमाउंट का इस्तेमाल करने लगा। पुत्र ने काफी सावधानी से अपनी माता की लाश को स्टोर किया था और उसे सड़ने से भी बचा लिया था। 
यह एक काफी बड़ा डर था क्योंकि यदि लाश सड़ जाती तो आसपास के लोगों को इस बारे में पता चल जाता और उसका राज खुल जाता। ऐसे में पेंशन के पैसे बंद हो जाने का भी डर था। पुलिस के मुताबिक उन्हें एक 89 साल की महिला की लाश मिली थी, जिसकी मौत पिछले साल जून में हो गई थी। पर इसके बाद भी उसके बेटे ने लाश को सड़ने से बचाकर रखा। एलएसएच को घर में छिपाकर रखने के लिए पुत्र ने कई तरह के जुगाड़ लगाये थे। 
इस बारे में बात करते हुये बात करते हुये पुत्र ने बताया कि उसे डर था की यदि उसकी सच्चाई के बारे में किसी को भी पता चल गया तो उसकी माँ का मिलने वाला पेंशन बंद हो जाएगा। इसलिए उसने अपनी माँ को ममी में तब्दील कर दिया। लाश को बचाकर रखने के लिए सबसे पहले तो उसने माँ की लाश को बर्फ से ढंक दिया था। इसके अलावा शरीर में से निकलने वाले तरल पदार्थ को सोखने के लिए उसने बॉडी को बैंडेज में बांध दिया और लाश में से सारा लिक्विड सोख लिया। इसके बाद उसने लाश को बिल्ली के खाने के थैले में भर दिया, जिसके बाद एक साल के अंदर उसकी माँ की लाश ममी में बदल गई।
जैसे ही पुलिस को लाश के बारे में पता चला, उसने उस व्यक्ति के ऊपर लाश छिपाने और फ्रॉड का इल्जाम लगा है। पूरा मामला तब सामने आया जब माँ के नाम से पेंशन देने आए पोस्टमैन ने लाश को महिला के हाथ में देने की जिद की। पर जब बेटे ने इस बात से इंकार किया तो उसने पुलिस को जानकारी दी। जिसके बाद तलाशी में सारा राज खुल गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें