जब जंगल का राजा शेर एक कुत्ते से डर के भागा, भागते-भागते थक गया बेचारा!

एक खेत में एक कुत्ते का जंगल के राजा को दौड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया

राजकोट से 30 किलोमीटर दूर लोधिका पंथ में पिछले चार दिनों से शेर और शेरनी डेरा डाले हुए हैं। हर दिन लोधिका के अलग-अलग गांवों की तलाशी ली जा रही है। हाल ही में एक खेत में एक कुत्ते का जंगल के राजा को दौड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इस वीडियो में देख सकते है कि कुत्ते के पीछे पड़ जाने के बाद शेर दौड़ता नजर आ रहा है।
जानकारी के अनुसार लोधिका के एक गांव में एक कुत्ता खुले मैदान में भौंकते हुए शेर के पीछे भाग रहा है। खुले मैदान में दौड़ते हुए शेर हांफने लगता है और उसकी रफ़्तार भी धीमा हो जाता है। फिर भी कुत्ता उसका पीछा नहीं छोड़ता और लगातार पीछे दौड़ रहा है। वीडियो को स्थानीय लोगों ने मोबाइल में कैद कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।
लोधिका के सांगनवा गांव में शनिवार की रात ओल्ड मंगानी गांव में शेर देखा गया। स्थानीय लोगों में शेर के आने से हड़कंप मच गया है। वर्तमान में किसान गर्मी की फसल की खेती के लिए खेत में जाने से कतरा रहे हैं। हालांकि स्थानीय नेताओं ने वन विभाग को इसकी सूचना दे दी है। सिंह लगातार स्थान बदल रहा है। असहनीय गर्मी और पानी की किल्लत के चलते अक्सर शेर गिर से आसपास के गांवों में नजर आते हैं, लेकिन राजकोट पहुंचना भी हैरान करने वाला है।
बता दें कि ये इससे पहले दो साल पहले गिर के जंगल को छोड़कर छोटेला पंथ में 61 दिन रहने के बाद दो सिंह ने राजकोट के पास त्रंबा में डेरा डाला। 48 घंटे तक दोनों शेर राजकोट और गोंडल के बीच कोटदासंगनी और ट्रंबा में घूमते रहे। हालांकि राजकोट से 21 किमी दूर शेर के आने की यह पहली घटना थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें