गाँधी पर वेब सीरीज : जल्द ही परदे पर महामा गाँधी के रूप में नजर आएंगे प्रतिक गाँधी, इतिहासकार रामचंद्र गुहा की पुस्तकों पर आधारित है वेब सीरीज की कहानी

श्रृंखला का निर्माण विश्वव्यापी दर्शकों के लिए वैश्विक स्तर पर किया जाएगा और इसे कई भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय स्थानों पर शूट किया जाएगा

अप्लॉज एंटरटेनमेंट ने महात्मा गांधी पर केंद्रित एक सीरीज बनाने की घोषणा की है। यह एप्लोस एंटरटेनमेंट का एक महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है। इसमें महात्मा गांधी का और भारत की स्वतंत्रता का समयकाल शामिल होगी। इसके लिए प्रसिद्ध इतिहासकार रामचंद्र गुहा द्वारा लिखित 'गांधी' पर दो सर्वाधिक आलोचनात्मक पुस्तकों के अधिकार प्राप्त कर लिए गए हैं। जबकि प्रतीक गांधी को महात्मा गांधी की भूमिका के लिए कास्ट किया गया है।
हर भारतीय या यूँ कहें कि सारा विश्व जानता है कि गांधी सत्य, प्रेम, अहिंसा और इच्छाशक्ति से भरे थे। वह एक महान नेता और शांति के प्रतीक थे। महात्मा ने अपने असाधारण कार्यों से भारतीय इतिहास की धारा को बदल दिया और दुनिया भर के कई नेताओं को प्रभावित किया। ऐसे में आदित्य बिड़ला समूह के अप्लॉज एंटरटेनमेंट ने हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों के दृष्टिकोण से भारतीय स्वतंत्रता की कहानी को जीवंत करने के लिए गांधी के जीवन पर एक बायोपिक की घोषणा की है। श्रृंखला प्रसिद्ध इतिहासकार और लेखक रामचंद्र गुहा की दो पुस्तकों, गांधी बिफोर इंडिया और गांधी- द इयर्स दैट चेंजेड द वर्ल्ड पर आधारित होगी। श्रृंखला का निर्माण विश्वव्यापी दर्शकों के लिए वैश्विक स्तर पर किया जाएगा और इसे कई भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय स्थानों पर शूट किया जाएगा।
श्रृंखला गांधी के शुरुआती दिनों और दक्षिण अफ्रीका में उनके काम से लेकर भारतीय संघर्ष तक के जीवन की कम ज्ञात कहानियों को बताएगी। युवा गांधी को महात्मा बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली स्थिति को भी कवर किया जाएगा और स्वतंत्रता आंदोलन के समकालीन, अविश्वसनीय व्यक्तित्वों की कहानी भी देखी जाएगी।
इस बारे में अप्लॉज एंटरटेनमेंट के सीईओ समीर नायर ने कहा, "रामचंद्र गुहा एक महान इतिहासकार और कहानीकार हैं, और हम उनकी क्लासिक किताबों गांधी बिफोर इंडिया और गांधी - द इयर्स दैट चेंजेड द वर्ल्ड को स्क्रीन पर पाकर सम्मानित महसूस कर रहे हैं। हम महात्मा और उनके शांति और प्रेम के दर्शन को पुनर्जीवित करने के लिए प्रतीक गांधी के अलावा किसी और के बारे में नहीं सोच सकते थे। यह दुनिया भर के दर्शकों के लिए आधुनिक भारत के जन्म की कहानी है।
प्रसिद्ध इतिहासकार और जीवनी लेखक रामचंद्र गुहा ने कहा कि गांधीजी के काम ने दुनिया को बदल दिया है। उनका जीवन एक महान कहानी था। जो तीन महान देशों भारत, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में फैला हुआ था। उन्होंने आजादी और वंचितों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ी। इस यात्रा में उसने अनेक मित्र और कुछ शत्रु भी बनाए। मुझे खुशी है कि गांधी पर मेरी पुस्तकों को अब एप्लोस एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित महत्वाकांक्षी और सम्मोहक श्रृंखला के लिए अनुकूलित किया जा रहा है। मुझे विश्वास है कि यह गांधी के जीवन की जटिल रूपरेखा और उनकी शिक्षाओं के नैतिक सार को दुनिया भर के दर्शकों तक पहुंचाएगा। वहीं इस बारे में प्रतीक गांधी ने कहा, "मैं गांधीवादी दर्शन और उसके मूल्यों में दृढ़ विश्वास रखता हूं, जो अपने शुद्धतम रूप में सादगी को दर्शाता है। व्यक्तिगत रूप से, मैं उनके कई गुणों और शिक्षाओं को अपने जीवन में आत्मसात करने का प्रयास करता हूं। महात्मा की भूमिका निभाना मेरे थिएटर के दिनों से ही मेरे दिल के बहुत करीब रहा है और अब महात्मा की भूमिका को फिर से पर्दे पर निभाना सम्मान की बात है। इस भूमिका को गर्व और आत्मविश्वास के साथ निभाना एक बड़ी जिम्मेदारी है। मैं अप्लॉज एंटरटेनमेंट में समीर नायर और उनकी टीम के साथ इस यात्रा का इंतजार कर रहा हूं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें