टी 20 के प्रति दिग्गजों का बढ़ा लगाव: उसेन बोल्ट की टी20 में खेलने की इच्छा पूरी होने के बाद ब्लेक की भी दिलचस्पी बढ़ी

(Photo Credit : IANS)

नई दिल्ली, 14 दिसम्बर (आईएएनएस)| पृथ्वी पर सबसे तेज धावक उसेन बोल्ट के टी20 लीग का हिस्सा बनने की दिलचस्पी सामने आने के बाद, उनके जमैका के हमवतन और पूर्व ट्रेनिंग पार्टनर 31 वर्षीय योहान ब्लेक की भी टी20 लीग में खेलने की दिलचस्पी बढ़ गई है। ट्रैक पर ब्लेक का शानदार करियर रहा है लेकिन बोल्ट के प्रदर्शन ने उनकी कामयाबी को कमतक साबित कर दिया। भले ही, वह ओलंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक नहीं जीत सके, लेकिन ब्लेक ने 2012 और 2016 ओलंपिक खेलों के रिले रेस में स्वर्ण पदक जीता हैं। वो 2012 के लंदन ओलंपिक में बोल्ट के बाद 100 और 200 मीटर स्प्रिंट में रजत पदक जीतकर दूसरे स्थान पर रहे थे।
दक्षिण अफ्रीका के प्रथम श्रेणी क्रिकेटर दीपक आनंद, जो वर्तमान में पावर स्पोट्र्ज लीग डिवीजन का हिस्सा हैं, उनके पास खाड़ी के देशों में जल्द ही खेले जाने वाले टी20 लीग की मेजबानी का अधिकार है। उन्होंने आईएएनएस को बताया, "वह जमैका के दो महान खिलाड़ियों द्वारा टी20 लीग में दिखाई गई दिलचस्पी से आश्चर्य चकित हैं।" उन्होंने कहा, "जैसा कि हम टीमों को एक साथ लेकर चल रहे हैं, टी20 प्रारूप में इतने सारे खेल दिग्गजों की उच्च रुचि देखना आश्चर्यजनक है। ऐसा लगता है कि आईपीएल ने क्रिकेट प्रतिभा वाले गैर-क्रिकेटरों की कल्पना साकार करने का काम किया है।" यहां तक कि ब्लेक ने 2011 के एथलेटिक्स चैंपिंयनशिप के 100 मीटर और 4 इनटू 100 (रिले रेस) दौड़ में गोल्ड अपने नाम किया था, तब भी उन्होंने क्रिकेट के प्रति अपनी इच्छा जताई थी।
ब्लेक स्कूल में एक तेज गेंदबाज थे और एक मैच के दौरान उनके प्रिंसिपल ने देखा था कि वह पिच पर तेज गेंदबाज के रूप में गेंद फेंक रहे हैं। लेकिन ब्लेक को बाद में स्प्रिंट में अपनी किस्मत आजमाने का मौका मिला। उन्होंने वेस्टइंडीज की ओर से दौड़ने के बाद भी तेज गेंदबाज बनने की उनकी इच्छा तब भी बरकरार रही, जब उन्होंने दुनियाभर में धमाल मचा दिया था। ब्लेक ने पिछले साल मिडडे को बताया, मैं फ्रेंचाइजी क्रिकेट में खेलना पसंद करूंगा। साथ ही मैं भारत में एक फ्रेंचाइजी का मालिक बनना भी पसंद करूंगा।"
पावर स्पोट्र्ज के प्रायोजन प्रभाग के प्रमुख मयंक शर्मा ने आईएएनएस को बताया, "वैश्विक प्रायोजक हमेशा खेल को शानदार तरीके से कराने की कोशिश करता है। साथ ही उन प्रायोजक के ब्रांडों को आगे बढ़ाने का प्रयास रहता है, जिनसे ब्रांड का साकारात्मक प्रभाव पड़े।" ब्लेक ने टी20 प्रारूप को तेजी से बढ़ते देखा है और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आकर्षक ने कम समय में संपत्ति को आत्मसात कर लिया है और अब वह टी20 लीगों का हिस्सा बनना चाहते हैं। 2008 की शरुआत में आठ आईपीएल टीमों को प्राप्त होने वाली संयुक्त लागत 3,000 करोड़ रुपये थी। औसतन यह प्रति फ्रेंचाइजी 375 करोड़ रुपये रहा। हाल ही में समाप्त हुई बोली के दौरान, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई), जो आईपीएल की संपत्ति का मालिक है, उन्होंने सिर्फ दो टीमों को बेचकर 12,715 करोड़ रुपये कमाए। एक टीम का औसत मूल्य अब 6,357 करोड़ रुपये है, जो केवल 13 वर्षो में 17 गुना ज्यादा हो गया।
भारत के पहले लाइव डिजिटल स्पोर्ट्स चैनल और पावर स्पोट्र्ज के साथ टी20 लीग का हिस्सा बनने के लिए दो स्प्रिंट लीजेंड्स ने दिलचस्पी व्यक्त की हैं। जब टी20 लीग शुरू होगी, तो ब्लेक और पाकिस्तान के रावलपिंडी एक्सप्रेस तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के बीच तुलना होना तय है। शोएब ने 2003 में विश्व कप के दौरान केप टाउन में इंग्लैंड के खिलाफ अब तक की सबसे तेज गेंद 161.3 किमी / घंटे की रफ्तार से गेंद डाली थी। अगर ब्लेक उनका रिकॉर्ड तोड़ देते है और उसेन बोल्ट विकेटों के बीच महेंद्र सिंह धोनी के 31 किमी / घंटे की रफ्तार से दौड़ कर उनको पीछा कर देते हैं तो यह वर्तमान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए एक ऐतिहासिक दिन होगा। दो स्प्रिंट लीजेंड्स के लिए कुछ भी करना असंभव नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें