वापी : प्यार में था ऐसा पागल कि दो रिश्तेदारों पर जानलेवा हमला कर फुफेरी बहन को भगा ले गया!

प्रतिकात्मक तस्वीर (www.canva.com)

भाई-बहन के पवित्र रिश्ते को किया दागदार, एक साल से कर रहा था परेशान, पुलिस ने युद्धस्तर पर काम शुरू किया

कुछ दिनों पहले एकतरफा प्रेम प्रसंग में सूरत के फेनिल नाम के युवक ने ग्रीष्मा नाम की युवती की उसकी मां और भाई के सामने ही हत्या कर दी थी। ऐसी ही एक और घटना सामने आई है जहाँ एक युवक ने एकतरफा प्रेम में अंधे होकर युवती के घर में तोड़फोड़ की और लड़की की मां, चाचा और बहन पर डंडे जैसे हथियार से हमला कर 17 वर्षीय नाबालिक लड़की को लेकर फरार हो गया। ये घटना पारदी तालुका के एक गांव में हुई। सूरत जैसी घटना की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए जिला पुलिस जीजान से लड़की को खोज रही थी। पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया।
जानकारी के अनुसार, पारडी के परिया वेलवागड झील फलिया निवासी सुनील जयेश चिबू पटेल एक गांव की 17 वर्षीय लड़की से एकतरफा प्यार में था। हैरानी की बात ये है कि ये दोनों रिश्ते में भाई-बहन लगते है। इस पवित्र रिश्ते के बाद भी लड़का लड़की के साथ शादी करने की जिद करता था। पिछले एक साल से घरवालों के बार-बार मनाए जाने के बावजूद सुनील अपनी जिद छोड़ने को तैयार नहीं था और बात करने पर लड़की के परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी थी। शुक्रवार को युवक अचानक पीछे से लड़की के घर में घुसा और उसकी मां-चाचा के साथ-साथ एक बहन पर भी डंडे जैसे हथियार से हमला कर दिया, उन सभी के सिर, पैर और हाथ पर वार किया और लड़की को घर के पास एक खेत से दूर ले गया। हमले में घायल हुए सभी लोगों को 108 ने इलाज के लिए पारडी के मोहन दयाल अस्पताल में भर्ती कराया है। घटना की जानकारी मिलते ही पारडी पुलिस और उनके डी स्टाफ बड़ी संख्या में मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की। हालांकि दोनों परिवारों को पिछले एक साल से एकतरफा प्यार की जानकारी है, लेकिन समाज में बदनामी होने के डर से उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी। लड़की के पिता ने बताया कि युवक पिछले एक साल से परेशान कर रहा था। फोन पर युवक ने उनको जान से मारने की धमकी दी।
फिलहाल लड़की को खोजने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। पारडी पुलिस समेत एलसीबी और एसओजी की अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं। नाकेबंदी के साथ खेत की तलाशी लेने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। सूरत जैसी घटना को रोकने के लिए पुलिस युद्धस्तर पर काम कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें