वड़ोदरा : नाबालिग का अपहरण कर बाईक पर अलग-अलग जगह लेजा गन्दा काम किया था, अब 20 साल जेल में चक्की पिसेगा

प्रतिकात्मक तस्वीर

20 साल जेल की सजा के अलावा 25 हजार का दंड भी लगाया गया

राज्य में पिछले कई समय से दुष्कर्म के कई मामले सामने आ रहे है। आरोपियों द्वारा खास तौर पर नाबालिग युवतियों को अधिक से अधिक शिकार बनाया जा रहा है। इसी बीच दुष्कर्म का एक और मामला सामने आया है। जिसमें नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में आरोपी खिलाफ कोर्ट ने कड़े कदम उठाते हुये उसे 20 साल जेल की सजा सुनाई है।
विस्तृत जानकारी के अनुसार, वडोदरा के करजण तहसील में एक गाँव में नाबालिग युवती के साथ दुष्कर्म करने के मामले में एक आरोपी को 20 साल जेल की सजा सुनाई गई है। करजन में रहने वाले आरोपी नरेश परमार ने नाबालिग को शादी की लालच देकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। जिस मामले में पोकसो कोर्ट द्वारा आरोपी को 20 साल की कड़ी जेल की सजा दी गई है। 20 साल की सजा के साथ कोर्ट द्वारा आरोपी को 25 हजार का दंड देने का भी ऐलान किया गया है। जबकि सरकार द्वारा लड़की को चार लाख का मुआवजा देने के निर्देश दिये गए है।
उल्लेखनीय है कि आरोपी साल 2013 में नाबालिग को शादी कि लालच देकर भगा ले गया था। इस दौरान उसने नाबालिग युवती को विभिन्न स्थल पर ले जाकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें