वड़ोदरा : ‘तू मेरी नहीं हो सकती तो मैं तुझे किसी और की नहीं होने दूंगा!” कहते हुए पूर्व प्रेमी ने प्रेमिका को मारा चाकू

प्रतिकारात्मक तस्वीर

20 दिन पहले युवती की शादी किसी अन्य व्यक्ति से हुई, आरोपी प्रेमी ने प्रेमिका की पीठ में छुरा घोंपकर जान से मारने की कोशिश की

शहर के लोग अभी तक अपने ही शहर के तृषा और सूरत की ग्रीष्मा वेकारिया हत्याकांड का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि ऐसा ही एक और मामला सामने आ गया जहाँ एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को बेरहमी से मारने की कोशिश की है। वडोदरा के पास दसर में एक पूर्व प्रेमी ने अपनी किसी और से विवाहित प्रेमिका की पीठ में छुरा घोंपकर जान से मारने की कोशिश की। युवक लड़की के घर गया और बोला, "यदि तुम मेरी नहीं होगी तो मैं तुम्हें किसी का नहीं होने दूंगा।" युवती के परिजनों ने भी भी आरोपी प्रेमी पर हमला कर दिया। फिलहाल युवक और युवती दोनों का इलाज चल रहा है। गौरतलब है कि युवक व युवती के परिजनों ने एक दूसरे के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी है।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार दस्सर के नाहरा गांव में एक पूर्व प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को चाकू मारने का प्रयास किया। दसर थाने में दर्ज शिकायत के मुताबिक 20 दिन पहले युवती की शादी किसी अन्य व्यक्ति से हुई थी। शादी से पहले युवती का गांव के ही शक्तिसिंह परमार नाम के युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन शादी के बाद उसका उससे कोई संबंध नहीं था। शनिवार की दोपहर युवती चाचा की शादी में परिवार के साथ गई थी। पूर्व प्रेमी शक्तिसिंह वहां आया और अपने साथ प्रेम संबंध रखने के लिए कहते हुए ऐसा न करने पर जान से मारने की धमकी दी। हालांकि शादी का मौका होने के कारण लड़की ने इसकी जानकारी किसी को नहीं दी। विवाह संपन्न होने के बाद रात करीब नौ बजे जब लड़की उसके साथ बैठी थी तभी अचानक शक्तिसिंह हाथ में चाकू लेकर वहां आ गया।
शक्तिसिंह वहाँ आया और लड़की की पीठ में छुरा घोंप दिया। जिसके बाद युवती ने शोर मचाना शुरू कर दिया। यह सुनकर भाई दौड़ता हुआ आया और उससे मारपीट करने लगा। इसी बीच लड़की का भाई फावड़ा लेकर आया और उसके सिर पर वार कर दिया। जिससे शक्तिसिंह के सिर में चोट लग गई। जिसके बाद युवती को अस्पताल ले जाया गया। जिसके बाद उन्हें आगे के इलाज के लिए वडोदरा के सयाजी अस्पताल ले जाया गया। इस मामले में लड़की के घर वालों ने शक्ति सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। वहीं, शक्तिसिंह के पिता ने भी पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। लड़की के परिवार ने शक्तिसिंह को बेगुनाह बताते हुए सारा दोष लड़की पर डाल दिया। शक्तिसिंह फिलहाल सावली के एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें