भारत में अगले महीने से शुरू हो सकता है बालकों का टीकाकारण

प्रतिकात्मक तस्वीर

भारत बायोटेक के बच्चों की वैक्सीन को मिल चुकी है अनुमति

कोरोना वायरस के खिलाफ भारत का टीकाकरण अभियान काफी तेजी से चल रहा है। भारत में 18 साल से अधिक उम्र के कई लोगों को टीका दिया जा चुका है। देश के अधिकतर व्यसकों को कम से कम कोरोना का एक डोज़ तो लग ही चुका है। ऐसे में टीकाकरण से जुड़ी एक और महत्वपूर्ण खबर सामने आई है। इसके अनुसार भारत में अगले महीने से ही बालकों को भी कोरोना का टीका लगाने की शुरुआत कर दी गई है। 
एक न्यूज चेनल की रिपोर्ट के अनुसार नवंबर महीने के दूसरे सप्ताह से भारत में बच्चों का टीकाकरण शुरू हो जाएंगा। उल्लेखनीय है की भारत सरकार के ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया द्वारा भारत बायोटेक की बच्चों के लिए बनाई गई वैक्सीन को अनुमति दे दी गई थी। ऐसे में अगले महीने के दूसरे सप्ताह से ही बच्चों का टीका देना शुरू कर दिया जाएगा। इसके लिए सबसे पहले कम रोगप्रतिकारक शक्ति वाले और गंभीर बीमारियों से पीड़ित बच्चों को टीका दिया जाएगा। इन बीमारियों में कौन सी बीमारियों को शामिल किया जाएगा, यह जल्द ही सूचित कर दिया जाएगा। 
ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से जुड़े सूत्रों का कहना है की वैक्सीन के प्रभाव और उसकी सलामती के आधार पर बने डेटा के आधार पर ही गंभीर बीमारियों की लिस्ट बनाई जा सकेगी। एक बार भारत बायोटेक द्वारा आने वाले महीने में कितने टीके उपलब्ध हो सकेगे, इसकी जानकारी आने के बाद टीकाकरण की शुरुआती तारीख बताई जाएगी। 
बच्चों को 28 दिनों के अंतराल पर टीके की दो खुराक दी जाएगी। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने कंपनी को प्रोटोकॉल के अनुसार बच्चों पर टीकाकरण के प्रभाव पर अध्ययन जारी रखने को कहा है। कंपनी को सुरक्षा डेटा जमा करने के लिए भी कहा गया है। जिसमें वैक्सीन के साइड इफेक्ट के आंकड़े भी शामिल हैं। यह डेटा पहले दो महीनों के दौरान हर पखवाड़े जमा किया जाना चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें