पहले घरवालों के खिलाफ जाकर की आपने प्रेमी से शादी, फिर सुहागरात के दिन ही मांग लिया तलाक!

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

भाभी के देवर के साथ ही चार साल प्रेम संबंध में रहने के बाद शादी के अगले दिन ही युवती ने शारिरिक संबंध बनाने से इनकार कर दिया, फिर ले लिया तलाक

आपने अक्सर सुना होगा कि कोइ प्रेमी जोड़ा शादी के लिए घर वालों के खिलाफ जाकर अपने साथी से विवाह कर लेता है। पर क्या आपने सुना है कि चार साल प्रेम संबंध के बाद किसी न्स विवाह के अगले ही दिन अपने साथी के साथ रहने से मना कर दिया हो। सुनने में भले ही अजीब सा लगे पर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले से हैरान करने वाली खबर सामने आई है जहां घर वालों के खिलाफ जाकर अपने प्रेमी से प्रेम विवाह करने के बाद दुल्हन ने न सिर्फ सुहागरात पर अपने पति के साथ शारीरिक संबंध बनाने से मना कर दिया बल्कि तलाक की मांग कर दी। यह सुन दूल्हे के होश उड़ गए। परिजनों द्वारा  बहुत समझाने के बाद भी दुल्हन अपनी जिद पर अड़ी रही फिलहाल दुल्हन ने अपने पति से तलाक ले लिया है।
जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में रहने वाली एक युवती का अपनी बहन के देवर के साथ चार साल से प्रेम संबंध था। लड़की ने परिवार के विरोध में जाकर प्रेमी से शादी की, लेकिन शादी के अगले ही दिन उसने पति के साथ रहने से इनकार दिया। शादी के बाद सुहागरात में दुल्हन ने अपने पति से कहा कि मुझे सेक्स करना बिल्कुल भी पसंद नहीं है। पहले तो दूल्हे को लगा कि शायद उसकी पत्नी उसके साथ मजाक कर रही है, लेकिन पत्नी ने साफ कर दिया कि वह अब कभी किसी के साथ सेक्स नहीं करेगी क्योंकि उसे ऐसा करना बिल्कुल भी पसंद नहीं था। यह सुनते ही युवक का पैर उसके नीचे से फिसल गया।  घरवालों ने युवती को काफी समझाया, लेकिन वह दोनों में से नहीं थी और शारिरिक संबंध के लिए मना करती रही। इतना ही नहीं उसने पति से तलाक मांग लिया। दोनों परिवारों ने युवती को मनाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं मानी। 
मामला बढ़ने पर युवती मायके आ गई। इसके बाद वह कभी वापस नहीं गई। युवती पर दोनों परिवारों ने ससुराल जाने के लिए दबाव बनाया तो उसने एसएसपी कार्यालय में प्रार्थना पत्र दे दिया। उसने आत्महत्या करने की धमकी दी। युवती के प्रार्थना पत्र को नारी उत्थान केंद्र में भेज दिया गया। यहां कई काउंसलिंग में उसे मनाने का प्रयास किया गया, लेकिन युवती पति के साथ रहने को तैयार नहीं हुई। फिलहाल पति पत्नी के बीच आपसी सहमति से समझौता हो गया है, अब दोनों अलग अलग रहेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें