यूपीएससी : महज कुछ अंकों के कारण निष्फल रही दस साल की मेहनत, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ इस परीक्षार्थी का ट्वीट

इस बार महज 11 अंकों के कारण परीक्षा पास नहीं कर पाए रजत संब्याल, छः प्रयास में रहे निष्फल

हाल ही में यूपीएससी यानी संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम सामने आया। इस साल श्रुति शर्मा ने इस कठिन परीक्षा में प्रथम स्थान हासिल कर अपने परिवार वालों का नाम रोशन किया। हर साल लाखों लोग इस यूपीएससी की परीक्षा में शामिल होते हैं। इनमें से कुछ ही उम्मीदवार सफल होते हैं। तो दूसरी ओर कुछ उम्मीदवार कुछ ही अंकों से चूक जाते हैं। इस परीक्षा में सफल होने वाले लोग खूब सुर्खियां बटोरते हैं। इस बार यूपीएससी के रिजल्ट में लड़कियों का दबदबा रहा है। श्रुति शर्मा के बाद अंकिता अग्रवाल दूसरे और गामिनी सिंगला तीसरे स्थान पर रहीं। सोशल मीडिया पर नतीजे आते ही सफल छात्रों को बधाई देने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। हालांकि इसी बीच यूपीएससी के एक ऐसे उम्मीदवार का ट्वीट वायरल हो रहा है, जो महज चंद अंकों से परीक्षा में फेल हो गया। सबसे दुखद बात यह है कि यह उनका आखिरी प्रयास था।
यूपीएससी की परीक्षा इतनी कठिन होती है कि इसको देने वाले उम्मीदवार इस परीक्षा को पास करने के लिए जी-जान लगा देते है। लेकिन हर कोई तो सफल नहीं हो सकता न! इस परीक्षा में बहुत से लोग फेल हो जाते हैं। ऐसे में हार मानने के बजाय उम्मीदवारों को हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ना चाहिए। इस बात को रजत संब्याल के हालिया ट्वीट से बेहतर कोई नहीं दिखा सकता। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "10 साल की मेहनत धराशायी हो गई। यूपीएससी के 6 प्रयास पूरे। प्रीलिम्स में 3 बार फेल, मेन में 3 बार फेल। अपने आखिरी प्रयास में, कल, मुझे एक साक्षात्कार में कम अंक मिले। दौरे के बाद, मैंने छोड़ दिया। हालांकि, मैं अभी भी आगे बढ़ रहा हूं।"
रजत संब्याल ने अपने ट्वीट में अपना रिपोर्ट कार्ड और दिल्ली में संघ लोक सेवा आयोग कार्यालय के बाहर ली गई अपनी तस्वीर भी साझा की। उनके रिपोर्ट कार्ड से पता चलता है कि उन्हें कुल 942 अंक मिले हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार रजत का जन्म जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में हुआ था और वह जम्मू में पले-बढ़े थे। उन्होंने पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़ से सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है। इस बार उन्हें यूपीएससी परीक्षा पास करने की काफी उम्मीदें थीं, लेकिन वे केवल 11 अंकों से चूक गए।
रजत के इस ट्वीट के बाद लोगों को उनके लिए बुरा तो लग रहा है पर लोग उनके हिम्मत और हौसले को सलाम कर रहे है। लोग कह रहे है कि रजत जो भी करेंगे उसमें बहुत आगे जायेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें