यूपीआई लेनदेन में जून माह में फोनपे सब पर भारी, मई के मुकाबले ट्रांजैक्शन में 0.77% की बढ़ोतरी

इस लिस्ट में फोनपे के बाद गूगल पे,पेटीएम, अमेज़न पे और यस बैंक का नंबर

डिजिटल इंडिया और इंटरनेट के अधिकतम इस्तेमाल से आज का समय डिजिटल होता जा रहा है। इस दौरान अधिकांश लोग कैश भुगतान के बदले यूपीआई का चयन अधिक कर रहे हैं। ऐसे में बहुत से एप्लीकेशन ग्राहकों को तरह तरह के ऑफर और कैशबैक भी देते है। ऐसे में एनपीसीआई (नेशन पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया) ने जून के लिए यूपीआई लेनदेन के आंकड़े जारी किए हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, फोनपे ऐप 46.04% बाजार हिस्सेदारी के साथ सूची में सबसे ऊपर है। मई के मुकाबले कंपनी के यूपीआई ट्रांजैक्शन में 0.77% की बढ़ोतरी हुई है। इस लिस्ट में फोनपे के बाद गूगल पे,पेटीएम, अमेज़न पे और यस बैंक का नंबर आता है।
एनपीसीआई द्वारा जारी आंकड़ो के अनुसार,जून में 129.27 करोड़ फोनपे यूजर्स ने यूपीआई ट्रांजेक्शन किया। मई में यह आंकड़ा 114.98 करोड़ था। इसका मतलब है कि मासिक ऐप पर लेनदेन की संख्या में 14.28 करोड़ की वृद्धि हुई। गूगलपे के मुकाबले फोनपे पर 32.4 करोड़ ज्यादा यूपीआई ट्रांजेक्शन हुए। गूगल पे यूजर्स ने जून में 88.05 करोड़ ट्रांजेक्शन किए। मई में यह आंकड़ा 97.11 करोड़ था। यानी एक महीने में 9.16 करोड़ ट्रांजेक्शन बढ़े। हालांकि, कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 0.04% गिर गई। गूगल पे की बाजार हिस्सेदारी जून में 34.63% थी, जो मई में 34.67% थी। एनपीसीआई के मुताबिक जून में गूगल पे एप के जरिए कुल 2,07,287.73 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ।
तीसरे नंबर के पेटीएम ऐप में लेनदेन में बढ़ोतरी देखी गई। मई में 29.06 करोड़ यूपीआई लेनदेन हुए, जो जून में 32.65 करोड़ थे। यानी उसके लेन-देन में 3.58 करोड़ का इजाफा। जून में कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 11.63 फीसदी थी। कंपनी की बाजार हिस्सेदारी मई के मुकाबले जून में 0.18% बढ़ी।
Amazon Pay ऐप यूपीआई ट्रांजैक्शन की लिस्ट में चौथे नंबर पर है। हालांकि, लेनदेन की संख्या में 7.01 मिलियन की कमी आई। कंपनी के ऐप में मई में 58.35 करोड़ ट्रांजेक्शन हुए थे। जून में यह गिरकर 51.34 मिलियन हो गया। तो कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 1.83% थी। यस बैंक की ऐप लिस्ट पांचवें नंबर पर है। जून में इसका 24.72 मिलियन लेनदेन हुआ था और इसकी बाजार हिस्सेदारी 0.88% थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें