आने वाले एक महीने में महाराष्ट्र में दस्तक दे सकती है कोरोना की तीसरी लहर, टास्क फोर्स ने दी चेतावनी

प्रतिकात्मक तस्वीर

ब्रिटन जैसी परिस्थिति का करना पड़ सकता है सामना, टास्क फोर्स ने दी चेतावनी

देश भर में कोरोना की दूसरी लहर के केसों में कमी आने लगी है। ऐसे में कोविड के लिए बने राज्य टास्क फोर्स ने चेतावनी दी है कि महाराष्ट्र में अगले दो से चार हफ्तों में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। हालांकि कई अन्य कई अनुमानों के खिलाफ टास्क फोर्स का कहना है कि तीसरी लहर का बच्चों पर खास असर नहीं पड़ेगा।
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण को लेकर एक बैठक हुई। जिसमें टास्क फोर्स ने संकेत दिए कि तीसरी लहर में कुल मामलों की संख्या दूसरी लहर में एक्टिव केस के साथ दोगुनी हो सकती है। टास्क फोर्स का मानना है कि एक्टिव केस की संख्या 8 लाख तक पहुंच सकती है। इन सभी मामलों में टास्क फोर्स के अनुसार, 10 प्रतिशत मामले बच्चों या युवा वयस्कों से जुड़े हो सकते हैं। टास्क फोर्स के सदस्य डॉ शशांक जोशी ने कोविड प्रोटोकॉल के पालन पर जोर देते हुए कहा कि यदि सही कदम नहीं उठाए गए तो महाराष्ट्र को भी ब्रिटेन जैसी ही स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। जहां दूसरी लहर के कम होने के चार सप्ताह के भीतर तीसरी लहर आ गई। 
कोरोना की संभवित तीसरी लहर को रोकने तथा नियंत्रित करने के लिए टीकाकरण पर ज़ोर देने के लिए कहाँ गया है। टास्क फोर्स का कहना है की अधिक से अधिक टीकाकरण होने के बाद ही तीसरी लहर को रोका जा सकेगा। 
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें