नौकरी करने गया शख्स 6 साल बाद घर लौटा तो साथ में दूसरी बीवी और बच्चा भी था!

प्रतिकात्मक तस्वीर (File Photo: IANS)

पहली पत्नी को नहीं हो रहा था पुत्र तो दूसरे से की शादी, कहा - मजबूरन रख रहा हुआ तुम्हें

पति-पत्नी के बीच होने वाले झगड़े एक सामान्य सी बात है। हालांकि कई बार इन झगड़ों के कारण दोनों में काफी मतभेद भी हो जाते है। कई बार पति के घर के बाहर चलने वाले संबंधों के कारण भी उनके रिश्तो में दरार आती है। जिसके चलते मामला पुलिस स्टेशन तक पहुंचता है, ऐसा ही एक मामला गांधीनगर के पेथापुर से सामने आया है। जहां एक व्यक्ति जो नौकरी के लिए बाहर गया, जब 6 साल बाद लौटा तो साथ में अपनी दूसरी पत्नी और बच्चा भी लेकर आया।
विस्तृत जानकारी के अनुसार पेथापुर के रहने वाले शैलेश ठाकुर की शादी गांधीनगर के माणसा गांव में रहने वाली गोविंद ठाकुर की लड़की चंद्रिका के साथ साल 2008 में हुई थी। शादी के बाद चंद्रिका ने चार बेटियों को जन्म दिया था और वह अपनी सास, पति तथा बेटियों के साथ रह रही थी। साल 2014 में शैलेश नौकरी करने के लिए बाहर जाने की बात कर घर छोड़कर चला गया था।
घर से जाने के 6 साल बाद शैलेश ने फोन कर अपनी पत्नी चंद्रिका को उसके वापिस आने की खबर दी। 6 साल बाद जब पति का पत्नी के फोन पर कॉल आया तो शैलेश ने बताया कि वह अपनी दूसरी पत्नी और बच्चे को लेकर आ रहा है। यह सुनते ही चंद्रिका के पैरों तले से जमीन खिसक गई। इसके बाद वह अपनी दूसरी पत्नी टीना और बालक को लेकर गांव पहुंचा।
इस बारे में चंद्रिका ने काफी विरोध किया, पर चंद्रिका के बड़े पापा प्रधान जी ठाकुर और उनकी बड़ी सास ने चंद्रिका को समझाया। जिसके चलते शैलेश अपनी दोनों पत्नियों के साथ रहने लगा। कुछ दिनों के बाद जब चंद्रिका ने शैलेश को कहीं और रहने के लिए जाने कहा तो शैलेश क्रोधित हो गया और उसने चंद्रिका को काफी मारा। जिसके चलते चंद्रिका बच्चों को लेकर उनकी बुआ के यहां रहने चली गई। पति से अलग होने के बाद चंद्रिका अपनी बेटियों का खर्च उठाने के लिए मजदूरी करने लगी। एक बार जब चंद्रिका को दवा के लिए पैसों की जरूरत पड़ी, तो उसने शैलेश के फोन किया। पर शैलेश ने पैसे ना देते हुए कहा कि वह उसे पसंद नहीं करता और उसे मजबूरन रख रहा है। यदि वह गांव में कभी कदम भी रखेगी तो वह उसे जान से मार देगा।  जिसके चलते चंद्रिका पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई है

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें