सूरतः कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वैक्सीनेशन एवं कोविड केयर सेन्टर उपयोगीः मंत्री गणपत वसावा

अधिकारियों एवं पदाधिकारियों के साथ चर्चा करते मंत्री गणपत वसावा

मंत्री ने डांग जिले का दौरा कर जिले के अधिकारियों एवं पदाधिकारियों से मुलाकात कर उपयोगी मार्गदर्शन दिया

'मेरा गांव, कोरोना के मुक्त गांव' अभियान के तहत तैयार 'सीसीसीसी' का दौरा किया
 किसी भी संभावित महामारी से निपटने के लिए सभी आवश्यक सुविधाओं से लैस, कोरोना की संभावित तीसरी लहर सहित, मंत्री ने लोगों से शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक एहतियाती उपाय करने का आग्रह किया। 
डांग जिला सेवा सदन में जिला उच्च अधिकारियों और पदाधिकारियों के साथ, डांग जिला की कोरोना की परिस्थ‌िति के संदर्भ में  वन, आदिवासी विकास और महिला और बाल कल्याण राज्य मंत्री गणपत वसावा ने विचार-विमर्श किया। उन्होंने जिला के प्रथामिक स्वास्थ्य केन्द्रों से लेकर सिविल अस्पतालों तक सभी स्तर की जरुरी उपकरण, सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए संबंधित अधिकारियों को उपयोगी मार्गदर्शन दिया। 
उन्होंने जोर देकर कहा कि "कोरोना" से बचने का एकमात्र तरीका 'टीकाकरण' है।  मंत्री श्री गणपतसिंह वसावा ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर विशेषज्ञ जो कि घर पर पारंपरिक आयुर्वेदिक पद्धति से तावतरिया जैसी बीमारियों का इलाज कर रहे हैं, ऐसे वैद्य आचार्य को भी 'टीकाकरण' का महत्व लोगों को समझाने की आवश्यकता है। 
हालांकि, राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन स्वास्थ्य संस्थानों में सभी आवश्यक उपकरणों और सुविधाओं की पहुंच बढ़ाने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं, इस महामारी से बचाव के लिए सार्वजनिक सहयोग भी उतना ही आवश्यक है।
किसी भी संभावित स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन प्लांट, रीफिलिंग सिस्टम, ऑक्सीजन और वेंटीलेटर की आवश्यक मात्रा, बेड की संख्या, दवाओं की मात्रा, परीक्षण किट, टीकाकरण सहित आवश्यक श्रमशक्ति आदि पर चर्चा करते हुए, मंत्री ने कहा कि धन की कमी से कोई भी काम बंद नहीं होगा। 
गुजरात स्थापना दिवस 1 मई से  शुरु किये गये "मेरा गाम, कोरोना मुक्ता गम" जन अभियान की निजी यात्रा पर थे।  अपने दौरे के कार्यक्रम के दौरान, वघई, साकरपातल,  बोरखल, सेवाधाम, आहवा, सहित लवचाली में सार्वजनिक भागीदारी के साथ शुरू  सामुदायिक कोविड केयर सेंटर का दौरा किया। इस बीच, आहवा में, जिला अधिकारी ने पदाधिकारियों के साथ बैठक की और स्थिति का जायजा लिया।
बैठक में मंत्री के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष मंगलभाई गावित, विधायक विजयभाई पटेल और अन्य पदाधिकारी, पुलिस अधीक्षक  रविराज सिंहजी जडेजा, उप वन संरक्षक  नीलेश पंड्या, निवासी अतिरिक्त कलेक्टर  तेरसिंह डामोर, प्रांत अधिकारी  काजल गामित  अतिरिक्त जिला स्वास्थ्य अधिकारी  डॉ. संजय शाह, जिला महामारी नियंत्रण अधिकारी डॉ. डीसी गामित, सिविल अस्पताल के अधीक्षक प्रभारी डॉ. रितेश ब्रह्मभट्ट आदि उपस्थित थे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें