सूरत : कपड़ा बाजार के व्यापारियों और कारीगरों पर बनाई गई शोर्ट फिल्म को मिल रही है जबरजस्त प्रतिक्रिया

कुछ वर्षों से क्रिंग पैकिंग और फोल्डिंग के व्यवसाय में शामिल किशन कुमावत ने कोरोना की तीसरी लहर को ध्यान में रख कर बनाई है फिल्म

प्रतिभा कभी किसी की मोहताज नहीं रहती, किसी भी क्षेत्र की प्रतिभा कभी छिपी नहीं रहती। मौका मिलते ही वह दुनिया के सामने आ जाती है। फिर चाहे वह अभिनय का क्षेत्र हो या कोई अन्य क्षेत्र। ऐसी प्रतिभाओं ने मिलकर कपड़ा बाजार की सीमाओं को लांघकर कला के माध्यम से व्यापारियों के साथ-साथ आम जनता का भी ध्यान अपनी ओर खींचा है। इन अनोखे कलाकारों में न केवल कपड़ा व्यापारी बल्कि दलाल (ब्रोकर) और पैकिंग कटिंग में शामिल लोग भी शामिल हैं।
आपको बता दें कि राजस्थान के पाली जिले के जेतारण के मूल निवासी और पिछले कुछ वर्षों से क्रिंग पैकिंग और फोल्डिंग के व्यवसाय में शामिल किशन कुमावत ने सूरत के कपड़ा बाजार का बड़ा बेगमवाड़ी बाजार के न्यू टेक्सटाइल मार्केट में कोरोना के समय की संभावित तीसरी लहर के बारे में एक लघु फिल्म बनाई है। इस लघु फिल्म कहानी लिखने के अलावा, किश ने अभिनय और निर्देशन भी किया है। उन्होंने अपने स्वयं के एलएफ प्रोडक्शन पर इस लघु फिल्म का प्रीमियर भी किया है। किश ने कहा कि फिल्म दिखाती है कि कोरना की तीसरी लहर को लेकर लोगों के मन में किस तरह की धारणा बन गई है। उनके साथ स्थानीय कलाकारों जैसे एकांशी मारफतिया, अजय धनगर, प्रकाश पाटिल, शीला पाटिल आदि ने भी अभिनय किया है।
रिपोर्ट के अनुसार सूरत के कपड़ा बाजार में कढ़ाई विभाग में काम करने वाले गणेश अग्रवाल ने कोरोना युग के दौरान लोगों से डर के माहौल को दूर करने के लिए एक हास्य गीत की रचना की। उनके साथ निश्चल अग्रवाल और मिलिंद अग्रवाल थे और उनके कॉमेडी गाने को सूरत के कपड़ा व्यापारियों के साथ-साथ देश भर के लोगों ने खूब सराहा। गणेश अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने उस समय जो अच्छा लगा उसे बनाया और लोगों ने इसे खूब पसंद किया।
गौरतलब है कि मिलेनियम मार्केट के कपड़ा व्यापारी चरणपाल सिंह की प्रमोशन शॉर्ट फिल्म को भी रिकॉर्ड तोड़ रिस्पॉन्स मिला है। अकेले-घी मेहंदी डिजाइन नाम के पेज पर उस प्रमोशन को अब तक लाखों लोग देख चुके हैं। कपड़ा व्यापारी चरणपाल सिंह का कहना है कि उन्होंने यह अभिनय केवल शौक के लिए किया और यह भगवान की कृपा है कि लोगों को इतना प्यार मिला। प्रमोशन शॉर्ट फिल्म को दो महीने में लाखों लोग देख चुके हैं। आप भी गौर फरमाईये।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें