सूरत : स्वाइन फ्लू के मामले बढ़े, अब तक 43 मामले और 2 की मौत

आइसोलेशन की व्यवस्था की गई

सिविल और स्मीयर अस्पतालों में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड, एडवांस प्लानिंग है जरूरी

सिविल अस्पताल में स्वाइन फ्लू के लिए एक वार्ड खोला गया है
स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामलों ने प्रशासन को सतर्क कर दिया है। मौजूदा बरसात के मौसम के कारण वायरल के मामले भी बढ़ रहे हैं। जिसमें स्वाइन फ्लू के मामले भी काफी बढ़ रहे हैं। इसको लेकर सूरत नगर निगम की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। सिविल और समीर अस्पतालों में सुविधाओं के साथ आइसोलेशन रूम शुरू किए गए हैं। सूरत में अब तक 43 मामले सामने आ चुके हैं और दो मरीजों की मौत भी हो चुकी है।
सूरत में स्वाइन फ्लू के मामले बढऩे के कारण सिविल और स्मीमेर अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड शुरू कर दिए गए हैं। सिविल अस्पताल के स्टेमसेल भवन में स्वाइन फ्लू के मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड शुरू किया गया है। जिसमें वेंटिलेटर के साथ 10 बेड रखे गए हैं। ऐसे में स्मिमर अस्पताल की तीसरी मंजिल पर भी वेंटिलेटर सिस्टम वाला 15 बेड का आइसोलेशन वार्ड शुरू किया गया है।
स्वास्थ्य अधिकारी प्रदीप उमरीगर ने बताया कि स्वाइन फ्लू के मामलों में आंशिक वृद्धि हुई है. इसी को ध्यान में रखते हुए सूरत नगर निगम और राज्य सरकार की ओर से सभी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. लोगों का भी ख्याल रखना जरूरी हो गया है। सूरत में अब तक 43 मामले सामने आ चुके हैं। अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। सूरत और समीर अस्पतालों में व्यवस्था के तहत आइसोलेशन वार्ड शुरू किए गए हैं। सूरत शहर में फिलहाल करीब 16 मरीजों का इलाज चल रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें