सूरत : सुमुल की दूध वितरण गाडिय़ां पुलिस पीसीआर के साथ डेयरियों में लाई गईं

पुलिस सुरक्षा के साथ दूध पहुंचाने की व्यवस्था की गई

मालधारी समाज के आंदोलन के चलते दूध वाहनों को पुलिस संरक्षण के तहत लाया पहुंचाया जा रहा है

मालधारी समाज द्वारा दूध का वितरण न कर प्रदेश भर में आंदोलन चलाया जा रहा है। इसलिए आज सुमुल डेयरी द्वारा दूध वितरण को अपरिवर्तित रखा गया है ताकि दूध को कोई नुकसान न हो। सुमुल की दूध वितरण गाडिय़ों को पुलिस ने सुरक्षित रखा है, ताकि कोई बाधा न हो और कोई अप्रिय घटना न हो। पुलिस पीसीआर वैन के साथ सुमुल वाहनों को डेयरियों में लाया गया है।

असामाजिक तत्वों द्वारा तोडफोड के डर से बचाव


सूरत के सरथाना क्षेत्र में मालधारी समाज के दूध वितरण आंदोलन की पूर्व संध्या पर कुछ तत्वों ने दूध बांटने वाली डेयरियों के खिलाफ नारेबाजी की। इस वजह से स्थानीय डेयरी प्रबंधकों ने पुलिस की मदद मांगी। साथ ही, सुमुल ने पुलिस से यह सुनिश्चित करने का भी अनुरोध किया कि उसके वाहनों को कोई नुकसान न हो। जिसके परिणाम स्वरूप आज पुलिस द्वारा पर्याप्त व्यवस्था के साथ सुमुल डेयरी से स्थानीय विक्रेता तक दूध पहुंचाया गया।

पुलिस के काफिले ने दूध को सुरक्षित डेयरी तक पहुंचाया


मालधारी समाज द्वारा आज दूध वितरण पूरी तरह से रोक दिया गया है। किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस द्वारा संचालित व्यवस्था की गई है। साथ ही हर तरह की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। सुमुल की हर गाड़ी के साथ एक पुलिस पीसीआर तैनात की गई है और दूध बेचने वाले के सुरक्षित पहुंचने तक दूध की मात्रा पर पुलिस की नजर है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें