सूरत : सिंगल यूज़ प्लास्टिक बैन को लेकर हुआ ओपन हाउस कार्यक्रम

सिंगल युज प्लास्टिक के संदर्भ में विभिन्न एसोसिएशन की संयुक्त बैठक

टेक्सटाइल पैकेजिंग व अन्य पैकेजिंग में केवल 51 माइक्रोन प्लास्टिक व झबला में 75 माइक्रोन प्लास्टिक का उत्पादन स्वीकार्य माना जाएगा

पैकेजिंग में जो भी विसंगतियां थी वो अब इस ओपन हाउस की चर्चा के बाद खत्म हो गई 
सूरत म‌ें  गुरूवार को पांडेसरा के साउथ गुजरात टेक्सटाईल प्रोसेसर्स एसोसियेसन के सेमिनार हॉल में गुजरात पोल्युशन कन्ट्रोल बोर्ड, सूरत महानगर पालिका , साउथ गुजरात प्लास्टिक मनुफैक्चर एसोसियेसन व सूरत टेक्सटाइल पैकेजिंग एसोसियेसन की ओर से
 एक संयुक्त पहल पर एक ओपन हाउस का आयोजन किया गया था।  
इस ओपन हाउस का संचालन एसजीपीएमए के सेक्रेटरी  देवांगभाई चाहवाला ने कीया । जीपीसीबी सूरत की हैड श्रीमती ज़िज्ञासाबेन ओझा ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक के नियमों के बारे में बताया और जीपीसीबी के उन्नत शाह ने प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट के बारे में जानकारी दी 
। पैकेजिंग में जो भी विसंगतियां थी वो अब इस ओपन हाउस की चर्चा के बाद खत्म हो गई हैं।  टेक्सटाइल पैकेजिंग व अन्य पैकेजिंग में केवल 51 माइक्रोन  प्लास्टिक व झबला में 75 माइक्रोन प्लास्टिक का उत्पादन स्वीकार्य माना जाएगा। सूरत महानगर पालिका की ओर से अर्पित दुधवाला व  चिंतन गामीत उपिस्थित रहे । एसजीपीएमए की ओर से अध्यक्ष  किशोरभाई द्वारा ज़िज्ञासा बेन को स्मृति भेंट देकर  व एसटीपीए की ओर से ओमप्रकाश गोयल का ,अर्पित भाई का व  एओसीपी की ओर से अमित जैन ने उन्नत शाह का अभिवादन कीया । 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें