सूरत : नवसारी आपूर्ति अधिकारी एक लाख की रिश्वत लेते पकड़ा गया, तेल कारोबारी से मांग रहा था रिश्वत

रिश्वत लेते पकड़ा गया नवसारी आपूर्ति अधिकारी

एल.डी.ओ. भरा आईसर टेम्पो छोडने के लिए जिला आपूर्ति अधिकारी ने एक लाख रुपये की रिश्वत मांगी तो एसीबी में फंसा

राज्य में भ्रष्टाचार का प्रसार दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है, लेकिन नागरिकों की जागरूकता के कारण, कई भ्रष्ट अधिकारी भ्रष्टाचार विरोधी अधिकारियों द्वारा पकड़े जाते हैं। ऐसा ही कुछ नवसारी जिले में हुआ है। जहां जिला आपूर्ति अधिकारी ने तेल का कारोबार करते हुए व्यापारी से रिश्वत की मांग की तो व्यापारी ने एसीबी से संपर्क कर जाल बिछाया। आज एसीबी ने एक लाख की रिश्वत लेते हुए अधिकारी के खिलाफ त्वरित कानूनी कार्रवाई की है।

टाटा आईसर टेम्पो छुडाने के लिए मांगी थी रिश्वत


इस मामले में शिकायतकर्ता  तेल व्यापारी का टाटा आईसर वाहन जिसमें एल.डी.ओ. ( लाईट डिझल ऑयल) और लुब्रिकेन्ट ऑयल भरा गया तो आपूर्ति अधिकारी ने वाहन को रोका और लाइसेंस, बिल आदि दस्तावेजों की जांच की। दस्तावेजों की जांच के बाद आरोपी ने शिकायतकर्ता की आईसर कार को जाने दिया, जिसके बाद आरोपी अधिकारी ने शिकायतकर्ता के साथ रिश्वत की बातचीत की और रुपये  एक लाख की मांग की थी। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने आज नवसारी गंडवी रोड पर इटाडवा गांव में राजहंस थिएटर के पास जाल बिछाया।  आरोपी अधिकारी ने शिकायतकर्ता के साथ जानबूझकर बातचीत की और 1 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की और रिश्वत जाल के दौरान मौके पर ही पकड़ा गया। मामला, ट्रैपिंग अधिकारी एसएच चौधरी, पुलिस निरीक्षक, तापी एसीबी पुलिस स्टेशन तथा साथ एन पी गोहिल की देखरेख में आयोजित किया गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें