सूरत : महंगाई को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पाटिल के कार्यालय के बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन

भाजपा ने प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल को सौंपा आवेदन पत्र

सूरत में कांग्रेस ने महंगाई के मुद्दे पर रैली की और नवसारी सांसद व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल के कार्यालय के बाहर धरना देने पर पुलिस ने हिरासत में लिया

महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हुई खिंचातानी को लेकर तनाव
सूरत में कांग्रेस ने महंगाई के मुद्दे पर रैली की और नवसारी सांसद व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल के कार्यालय के बाहर धरना दिया।  सी आर पाटिल के कार्यालय में प्रतिनिधित्व करने के लिए कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया। महंगाई कम करने के लिए कार्रवाई की मांग को लेकर गई  महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच भी तनाव की स्थिति पैदा हो गई। 
सूरत शहर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष नैषध देसाई ने कहा कि सी आर पाटिल के पीए से एक सप्ताह से महंगाई के मुद्दे पर ज्ञापन देने के लिए समय मांगने के बावजूद सहयोग नहीं मिला।  देश में बढ़ती कीमतों को लेकर एक सांसद लोकसभा में जनता की मांग को  पेश करने की अपेक्षा के साथ कांग्रेस ने एक ज्ञापन नवासारी सांसद सी.आर.पाटील को देने के लिए उनके कार्यालय पर पहुंचे थे। पुलिस हमें हिरासत में ले या दंडों से मारे फिर भी मगर एक जनप्रतिनिधि सांसद के रूप में हमारी अभ्यावेदन को सुने। अंबानगर स्थित सांसद सी.आर.पाटील के कार्यालय के सामने कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता एकत्रित होकर हमारी पेशकश सूनने के लिे सांसद ऑफिस से नीचे उतरकर गेट पर आए ऐसी मांग की गयी। जबकी सांसद ने पुलिस के माध्यम से मेसेज दिया की अगर आपको ज्ञापन देना है तो चार-पांच सदस्य उपर कार्यालय में जा सकते हो। ज्ञापन देने के लिए कार्यालय में जाने की मांग के साथ पुलिस और कांग्रेस के नेताओं में कहासूनी हो रही थी तभी कार्यकारी अध्यक्ष नैषध देसाई, अशोक पिंपले, रोशन मिश्रा, अशोक कोठारी और सुनाल शेख उपर जाने के लिए सहमत हुए। इस दौरान सांसद पाटील ऑफस से बाहर आए और कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ताओं का ज्ञापन स्विकार किया। 
कांग्रेस उपाध्यक्ष हरीश सूर्यवंशी को पुलिस ने हिरासत मे लिया
देश में लगातार बढ़ रही महंगाई को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा सांसदों को ज्ञापन देने का कार्यक्रम तय किया था। अंबानगर स्थित नवासरी लोकसभा के सांसद सी.आर.पाटील को ज्ञापन देने के लिए कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता पहुंचे। अंबानगर में सांसद के कार्यालय से 50 मीटर दुर ही खटोदरा पुलिस ने कांग्रेसी नेताओं को रोक दिया। पुलिस ने कहा की सांसद ऑफिस में नही है। कांग्रेसी नेताओं ने मोबाईल से सांसद के कार्यालय में बात करायी तो पुलिस ने मात्र पांच लोगों को जाने की अनुमति दि। खटोदरा पीआई ने सूरत शहर कांग्रेस के उपाध्यक्ष हरीश सूर्यवंशी को हिरासत में ले लिया और पुलिसकर्मीओं से कहा की हरीश सूर्यवंशी को पुलिस वाहन में बीठा दो । इसी के साथ महिला कांग्रेस के कार्यकर्ता भारतीबेन पटेल, रईशा शेख, छायाबेन ठाकुर को भी हिरासत मे ले लिया। कांग्रेस के मात्र पांच सदस्यों को ज्ञापन देने की अनुमति दी गयी। हरीश सूर्यवंशी ने कहा की सांसद के कार्यालय पर ज्ञापन देने  से रोकनेवाली पुलिस ने लोकशाही का हनन किया। थोडी देर  बाद खटोदरा पुलिस ने  हिरासत में लिए कार्यकर्ताओं को रिहा किया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें