सूरत : यार्न फैक्टरी में लगी भयंकर आग, अंदर काम कर रहे तीन मिस्त्री हुये लापता

(Photo Credit :etvbharat.com)

पिछले कुछ दिनों से सूरत मेन आग लगने की एक के बाद एक घटना सामने आ रही है। पहले शहर के वराछा इलाके में बस में लगी आग के बाद अब जिले के पलसाना इलाके में एक मिल में आग लग गई होने की घटना सामने आई है। मिल में यार्न होने के कारण आग ने जल्द ही विकराल स्वरूप हासिल कर लिया। मिल में लगी भयंकर आग के कारण तीन किलोमीटर दूर से भी आग की लपटें दिखाई दे रही थी। 
न्यूज वैबसाइट etv गुजराती के अनुसार, पलसाना स्थित सौम्या प्रोसेसिंग प्राइवेट लिमिटेड में गुरुवार को सुबह 3:30 के करीब अचानक से आग लग गई थी। देखते ही देखते आग ने विकराल स्वरूप हासिल कर लिया, जिसके चलते आग बुझाने के ल्लिए पलसाना, बारडॉली और सूरत से फायर विभाग की गाडियाँ पहुंची थी। जिस समय ऑफिस में आग लगी उस समय राजस्थान से आए तीन कारीगर, जो की मिस्त्री का काम कर रहे थे। उनके गायब होने की खबर आई है। इसके चलते तंत्र भी सतर्क हो गया है।
आग इतनी भीषण थी कि आसपास की इकाइयां भी आग की चपेट में आ गईं और इसके कारण अन्य मिलों को भी बंद करना पड़ा। दमकल विभाग ने कहा कि अभी भी आग पर काबू पाया जा रहा है। सुबह तड़के आग लग गई, जिसके बाद मजदूरों को बाहर निकालना पड़ा। मिल के सूत ने राक्षसी रूप धारण कर लिया। आग की चपेट में आए गैस सिलेंडर में जोरदार धमाका हुआ। पलसाना पुलिस का एक काफिला मौके पर पहुंचा और लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए है।
बारडोली दमकल अधिकारी पीबी गढ़वी ने कहा कि आग लगने के कारणों का तत्काल पता नहीं चल पाया है, लेकिन मिल में बड़ी मात्रा में यार्न और रसायनों के कारण आग लगी थी। आग पर काबू पाने के लिए कडोडोरा, पलसाना के अलावा बारडोली, सूरत, व्यारा, नवसारी और गंडवी से दमकल की गाड़ियां बुलाई गई हैं. फिलहाल आग बुझाने का काम चल रहा है। चोटों या गंभीर क्षति की तत्काल कोई रिपोर्ट नहीं थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें