व्याज से 8 लाख लेकर की थी अपनी कंपनी शुरू, आज है 2 लाख करोड़ की कंपनी के मालिक

विजय शेखर शर्मा

देश में सबसे बड़ा आईपीओ लाने वाली कंपनी बनने जा रही है विजय शेखर द्वारा बनाई गई Paytm

देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन लेन-देन प्लेटफॉर्म कंपनी Paytm का आईपीओ कुछ ही समय के बाद आने वाला है। 22 हजार करोड़ के आईपीओ के आने के बाद Paytm 2 लाख करोड़ की मूल्य वाली कंपनी बन जाएगी। अक्तूबर से डिसेम्बर के समय में आने वाला Paytm  का आईपीओ अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ होने वाला है। इसके पहले साल 2010 में कॉल इंडिया ने 15475 करोड़, रिलायंस पावर ने साल 2008 में 11700 करोड़ का आईपीओ लॉंच किया था। 
अब तक के इतिहास में सबसे बड़ा आईपीओ लॉंच करने वाली Paytm  के माइल्क विजय शेखर शर्मा है। जो की अलीगढ़ के रहने वाले है। विजय ने 12 वीं ताक की पढ़ाई हिन्दी मीडियम से ली थी। जिसके बाद वह दिल्ली गए और वहाँ उच्च अभ्यास किया। साल 1997 में ही उन्होंने Indiasite.net नाम की वैबसाइट बनाई। दो साल के बाद ही उन्होंने अपनी यह वैबसाइट बेच दी। बस यही से शुरू हुई थी, उनकी सफल बनने की कहानी। 
कुछ ही समय पहले विजय ने एक 10 साल पुराना स्टार्टअप शेयर किया था। जिसमें लिखा था की स्मार्टफोन कुछ भी कर सकता है। एक बिजनेस मॉडल भी तैयार कर सकता है। यही बताता है की विजय कितना आगे तक की सोच रखते थे। यह स्क्रीनशोट तब का है जब Paytm एप शुरू भी नहीं हुआ था।  विजय ने बताया जब वह नया स्टार्टअप शुरू करना चाहते थे तब उनके पास पैसे नहीं थे। बचत के पैसे भी काहटम हो गए थे। जिसके चलते उन्होंने एक जगह से 8 लाख रुपए 24 प्रतिशत व्याज पर लिए थे। कुछ दिनों बाद उनकी मुलाकात एक अन्य व्यक्ति से हुई। उस व्यक्ति ने विजय से कहा की यदि वह उनका नुकसानी सह रहा व्यापार फिर से फायदे में लेकर आते है तो वह विजय की कंपनी में निवेश करेंगे। विजय ने अपनी कुशलता से उस व्यक्ति के नुकसान को फायदे में बदल दिया। जिसके बाद उन्होंने विजय की कंपनी में 40 प्रतिशत शेयर खरीदे। जिससे की उसने अपना लोन खत्म किया। 
साल 2011 में उन्होंने मोबाइल से पेमेंट मॉडल पर काम करना शुरू किया। विजय ने अपनी कंपनी शुरु की Pay Through Mobile जो बन गया Paytm। उनकी कंपनी का सबसे बड़ा फायदा यह था की वह अपनी तरह की सबसे पहली कंपनी थी। हालांकि कंपनी को सबसे बड़ा फायदा हुआ जब भारत में नोटबंदी की गई। नोटबंदी के पहले जहां Paytm  के पास मात्र 12.5 करोड़ ग्राहक थे वही नोटबंदी के बाद Paytm के पोर्टल पर ट्राफिक 435 प्रतिशत बढ़ गया। नोटबंदी के 6 महीने के बाद चीन के अलीबाबा ग्रुप और SAIF की तरफ से कंपनी में 1500 करोड़ का निवेश किया। इन सबके बाद Paytm ने इंडियन क्रिकेट को स्पोंसर किया, जिससे की उसकी ब्रांड वेलयु और भी अधिक बढ़ गई। पिछले साल Paytm  1 अरब डॉलर की कंपनी बन गई और अब कंपनी देश की सबसे बड़ी आईपीओ को लॉंच करने वाली कंपनी बनने जा रही है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें