रिलायंस जिओ : ई-केवाईसी सत्यापन के नाम पर जनता को चूना लगा रहे है स्कैमर्स, कंपनी ने सावधान रहने के लिए दिए पांच टिप्स

फाइल तस्वीर

रिलायंस जिओ ई-केवाईसी सत्यापन के नाम पर फ्रॉडगिरी की जानकारी आई सामने, कंपनी ने दिए ई-केवाईसी स्कैम से बचाने के लिए कुछ टिप्स

आज के समय फ्रॉड करने वाले लोग तरह तरह के हथकंडे अपना रहे है। इसमें क्रेडिट कार्ड से लेकर बैंक केवाईसी जैसी बातों के सहारे ये लोग जनता को चूना लगा रहे है। हाल में अब रिलायंस जिओ के नाम पर फ्रॉडगिरी की जानकारी सामने आई है। इस घटना के मद्देनजर रिलायंस जिओ ने अपने ग्राहकों को ई-केवाईसी स्कैम से बचाने के लिए कुछ टिप्स दिए हैं। यूजर्स को इस स्कैम से बचाने के लिए कंपनी अक्सर मैसेज अलर्ट भी भेजती है। तो आइए जानते हैं 5 टिप्स के बारे में:-
1. ई-केवाईसी सत्यापन के नाम पर धोखाधड़ी से बचें
आपको बता दें की ई-केवाईसी सत्यापन के नाम पर धोखाधड़ी से बचने के बारे में रिलायंस जियो ने कहा, ई-केवाईसी वेरिफिकेशन के नाम पर किसी भी कॉल या मैसेज का जवाब न दें। यह धोखाधड़ी करने वाले उपयोगकर्ताओं को केवाईसी सत्यापन के लिए एक अज्ञात नंबर पर कॉल करने के लिए कहता है। ऐसे फर्जी कॉलों से सावधान रहने की जरूरत है।
2. केवाईसी अपडेट के लिए ऐप डाउनलोड न करें
कंपनी ने अपने ग्राहकों को सावधान किया है कि केवाईसी अपडेट के लिए अपने फोन या पीसी पर कोई ऐप डाउनलोड न करें। यह आपके डिवाइस तक पहुंच को स्कैमर तक पहुंचने की अनुमति दे सकता है और आपको वित्तीय नुकसान पहुंचा सकता है, जिसका अर्थ है कि आपके खाते से पैसा निकल सकता है।
3. महत्वपूर्ण जानकारी साझा न करें
कंपनी और साइबर एक्सपर्ट के मुताबिक, ग्राहक को आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, ओटीपी जैसी अहम जानकारियां देने की जरूरत नहीं है। जियो का फर्जी कस्टमर केयर बनकर स्कैमर्स ग्राहकों से जरूरी डिटेल्स मांगते हैं। धोखाधड़ी से बचने के लिए किसी के साथ जानकारी साझा न करें।
4. कनेक्शन बंद करने की धमकी वाले कॉलों से सावधान रहें
कंपनी का कहना है कि अगर आपको कनेक्शन बंद करने वाले कॉल या मैसेज आते हैं तो सावधान रहें। रिलायंस जियो ने ग्राहकों से कहा, "ये कॉल ग्राहकों को ई-केवाईसी पूरा करने के लिए कहते हैं। ई-केवाईसी पूरा नहीं होने पर डिस्कनेक्ट करने की धमकी देता है।
5. मैसेज में मिले अनजान लिंक पर क्लिक न करें
जियो का कहना है कि, 'ई-केवाईसी कहने वाले मैसेज में दिए गए लिंक पर क्लिक न करें। कंपनी कभी भी My jio ऐप के अलावा कोई थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड करने के लिए नहीं कहती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें