इस राज्य की पुलिस ने जाँच के दौरान पकड़ा 7.9 करोड़ के नकली नोट, 3 लोग हुए गिरफ्तार

PC : Khabarchee.com

चार बेग में भर कर ले जा रहे थे नकली नोट, पुलिस ने आशंका के आधार पर पकड़ा

देश के विभिन्न हिस्सों में पुलिस द्वारा समय-समय पर बड़ी मात्रा में नकली नोटों को जब्त किया जाता है। एक बार फिर उड़ीसा पुलिस को चेकिंग के दौरान नकली नोट पकड़ने में बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने एक कार में रखे बैग से 7 करोड़ 90 लाख रुपये के नकली नोट जब्त किए हैं। ये राशि जगदलपुर-रायपुर से विशाखापत्तनम ले जाई जा रही थी। उस समय, बस्तर के पास उड़ीसा के कोरापुट में पुलिस ने चेकिंग के दौरान नकली नोटों से भारे बैगों को जब्त कर लिया। फोर्ड कार में यात्रा कर रहे तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके पूछताछ भी शुरू कर दी गई है। नकली नोटों को चार बैगों में भरकर ले जाया जा रहा था।
छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं आरोपी
मामले के तीन आरोपी छत्तीसगढ़ के जाजगीर चांपा के निवासी हैं। इस घटना के सामने आने के बाद शहर में जाँच प्रक्रिया कड़ी कर दी गई है। पुलिस ने सोमवार को उड़ीसा-आंध्र प्रदेश सीमा के पास कोरापुट जिले में एक बड़ा ऑपरेशन शुरू किया। पुलिस ने जाँच के दौरान चार बैगों से भरे बैग में मिले नकली नोट की हर संभावना और संदेह के अनुरूप जांच कर रही है। कोरापुट पुलिस के एसपी वरुण गुंटुपल्ली ने कहा कि वाहनों की हमेशा सुनकी पोस्ट पर जाँच की जाती है। इसी दौरान छत्तीसगढ़ से गुजर रही एक कार में नकली नोटों से भरे चार बैग मिले। यह पता लगाने के लिए जांच चल रही है कि 500 रुपये के नकली नोट किसे और कहां दिए जाने थे। पुलिस पूछताछ में तीनों ने स्वीकार किया कि नकली नोट छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक रंग करने वाले के पास से प्रिंट किए थे। जाली नोट को विशाखापत्तनम पहुंचाया जाना था।

पाँच मोबाइल फोन और नकदी भी किए जप्त
आपको बता दें कि इस नकली नोट में 500 रुपये के कुल 1580 बंडल और प्रत्येक बंडल में 100 नोट हैं। गिरफ्तार आरोपियों के पास से पुलिस ने पांच मोबाइल फोन और 35,000 रुपये नकद भी जप्त किए। कोरापुट पुलिस ने कहा कि मामले की जांच अलग-अलग दिशाओं में की जा रही है। रायपुर से बाहर जाते समय, तीनों आरोपियों ने अपनी कारों में पुलिस स्टेशन के पास कई चौकियों और इलाकों को पार किया था। ओडिशा सीमा पर सुनकी पोस्ट अंतिम पोस्ट है। इतनी बड़ी संख्या में नकली नोट मिलने के संदेह पर पुलिस ने वाहन को रोका। पुलिस ने मामले की जांच विशाखापत्तनम तक बढ़ा दी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें