UAE में लोग कातिलाना गर्मी से हुये परेशान, ड्रोन के माध्यम से की जा रही है नकली बारिश

(Photo Credit : twitter.com)

ब्रिटन की यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग की सहायता से की जा रही है ड्रोन की सहायता लेकर बारिश

पृथ्वी पर सबसे गरम जगहों में से एक UAE में पिछले कई समय से पार 50 डिग्री के पार पहुँच गया है। कातिल गर्मी के कारण सभी लोग परेशान है और जल्द ही बारिश हो ऐसा आशा रख रहे है। जिसके चलते एक खास तकनीक के जरिये यूएई में बारिश करवाई जा रही है। जिससे की लोगों को गर्मी से छुटकारा मिल सके। ब्रिटन की एक यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर यूएई ड्रोन का इस्तेमाल कर आर्टिफ़िशियल बारिश कर रही है। हवामान विभाग द्वारा इसके फुटेज भी जारी किए गए है। 
यूएई सरकार द्वारा ब्रिटन की यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग की सहायता से इस कुत्रिम बारिश को अंजाम दिया गया है। इस तकनीक में सबसे पहले बादलों को इलेक्ट्रिक शोक दिया जाता है, जिसके चलते बारिश होती है। शोक देने के कारण बादल आसपास एक दूसरे के साथ मिलने लगते है, तो बारिश होती है। मोसम विभाग का कहना है की क्लाउड सीडिंग की इस प्रक्रिया से बारिश की मात्रा को बढ़ाया सकता है। 
बता दे की यूएई दुनिया के 10 सबसे गरम प्रदेशों में से एक है। जहां साल में मात्र ढाई से तीन इंचा तक औसतन बारिश होती है। बारिश बढ़ाने के लिए यूएई द्वारा 1.5 करोड़ डॉलर का प्रोजेक्ट शुरू किया गया था। क्लाउड सीडिंग भी उसी प्रोजेक्ट का एक हिस्सा है। यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग के प्रोफेसर मार्टिन एबमोम ने कहा कि यूएई में बारिश के लिए बादलों कि मात्रा काफी कम है, जिसके चलते बादलों मे चार्ज रिलीज कर पानी की बुंदों को एक साथ लाया जा सकता है। जब यह बूंद भारी और बड़े हो जाते है तब बारिश शुरू हो जाती है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें