भूमि विवाद को लेकर पंचायत प्रत्याशी की गोली मारकर हत्या

प्रतिकात्मक तस्वीर (File Photo: IANS)

मृतक पूर्व ग्राम प्रधान दोबारा चुनाव लड़ने वाले थे

वाराणसी, 12 अप्रैल (आईएएनएस)| पप्पू यादव के नाम से परिचित एक पूर्व ग्राम प्रधान बृजेश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। वह दोबारा चुनाव लड़ने वाले थे। मृतक के परिवार ने हिस्ट्री शीटर अनिल यादव उर्फ भूसी यादव के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है। अनिल के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत प्राथमिकी दर्ज करते हुए पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है।
एसपी (ग्रामीण) अमित वर्मा ने कहा, प्रारंभिक जांच से पता चला है कि अनिल के रिश्तेदारों की तरफ से बृजेश के नाम पर एक जमीन का पंजीकरण कराया गया था और इसी बात को लेकर वह बृजेश से नाराज था। अनिल उस जमीन को अपने नाम करवाना चाहता था। उन्होंने आगे कहा, बृजेश और अनिल पहले दोस्त हुआ करते थे और पंचायत चुनाव का प्रत्याशी मृतक बृजेश यादव खुद भी एक हिस्ट्री शीटर था।
रविवार को बृजेश जब बाइक पर सवार होकर अपने घर लौट रहा था, तभी एक बगीचे के पास उस पर हमला बोला गया। उस पर कई बार गोलियां चलाई गईं। इलाज के लिए बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के ट्रॉमा सेंटर ले जाने के रास्ते में उसने अपना दम तोड़ दिया।
बृजेश के घरवालों ने पुलिस को एक वीडियो सौंपा है, जिसमें उसका बयान है। एसपी ने कहा, "मरने से पहले उसने अपने परिवार को बताया कि अनिल ने उस पर हमला किया था। उसके परिवार के सदस्यों ने उसके बयान पर एक वीडियो रिकॉर्ड किया है, जिसमें वह अनिल का नाम लेते नजर आ रहा है।"
वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। फरार आरोपी को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें