देश में एक बार फिर छाया कोरोना का संकट, बीते एक दिन में ओमिक्रोन के इतने मामले आये सामने

सूरत में स्वास्थ विभाग की टीम द्वारा कोरोना टेस्टींग बढाई

26 दिसंबर से देश में रोजाना 10,000 मामले सामने आ रहे, 10 जनवरी से शुरू होने वाली प्रीकॉशनरी डोज लेने के लिए सरकार योग्य बुजुर्ग आबादी को एसएमएस भेजेगी

बड़ी मुश्किल से देश में कोरोना के मामले नियंत्रित हुए थे। इसी बीच एक बार फिर कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ने लगा है। देश में पिछले हफ्ते से प्रतिदिन औसतन 8,000 से अधिक संक्रमित मामले देखे जा रहे। कुल मिलाकर कोरोना पॉजिटिविटी रेट 0.92 फीसदी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के बताये अनुसार 26 दिसंबर से देश में रोजाना 10,000 मामले सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा, मिजोरम के 6 जिलों, अरुणाचल प्रदेश के एक जिले, पश्चिम बंगाल के कोलकाता सहित 8 जिलों में 10 फीसदी से अधिक की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट नोट की जा रही है। 14 जिलों में साप्ताहिक मामले की पॉजिटिविटी रेट 5-10 फीसदी के बीच है।
आपको बता दें कि लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि भारत में कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के 961 मामले हैं, जिसमें से 320 मरीज ठीक हो गए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में लगभग 90 फीसदी वयस्क आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लगाई जा चुकी है। अब 10 जनवरी से शुरू होने वाली प्रीकॉशनरी डोज लेने के लिए सरकार योग्य बुजुर्ग आबादी को एसएमएस भेजकर इसकी याद दिलाएगी।
कोरोना के खिलाफ की लड़ाई में वैक्सीन एक प्रमुख हथियार है और इसी बारे में आईसीएमआर डीजी डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि भले आप कही के हो आपको वैक्सीन लेना चाहिए। आप सभी वैक्सीन चाहे वे भारत, इजरायल, अमेरिका, यूरोप, ब्रिटेन या चीन की हों। उनका काम मुख्य रूप से बीमारी मोडिफाई करना है। वे संक्रमण को नहीं रोकते हैं। प्रीकॉशनरी डोज मुख्य रूप से संक्रमण, अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु की गंभीरता को कम करने के लिए है। इसके अलावा वैक्सीनेशन से पहले और बाद में मास्क का इस्तेमाल जरूरी है और सामूहिक समारोहों से बचना चाहिए।
मामलों की बात करें तो पिछले 24 घंटे में भारत में ओमिक्रॉन वेरिएंट के एक दिन में सामने आए सर्वाधिक 180 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 320 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं या अन्य स्थानों पर चले गए हैं। ये मामले 22 राज्यों तथा केंद्रशासित प्रदेशों में सामने आए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि दिल्ली में सबसे अधिक 263 मामले सामने आए और इसके बाद महाराष्ट्र में 252, गुजरात में 97, राजस्थान में 69, केरल में 65 और तेलंगाना में 62 मामले सामने आए हैं।
मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में एक दिन में कोविड-19 के 13,154 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,48,22,040 हो गई है। वहीं, एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 82,402 हो गई। 268 और संक्रमितों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,80,860 हो गई है। देश में लगातार 63 दिन से कोविड-19 के दैनिक मामले 15 हजार से कम हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें