मध्यप्रदेश : "पत्नी से लड़ के आते है,दिन भर कब्ज़ रहती है," सरकारी महकमे का पत्र हुआ वायरल

बुंदेलखंड के मेडिकल कॉलेज के मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन द्वारा मेडिकल एसोसिएशन को लिखा गया एक पत्र हो रहा है वायरल

मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड के मेडिकल कॉलेज के मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन द्वारा मेडिकल एसोसिएशन को लिखा गया एक पत्र इस समय वायरल हो रहा है। पत्र के वायरल होने के पीछे वल्लभ भवन और सतपुड़ा भवन के अधिकारियों के बारे में की गई अभद्र टिप्पणी है। मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष और सचिव को एक पत्र एक घटना के बारे में जानकारी प्रदान करता है। इसमें कहा गया हैं कि सतपुड़ा-वल्लभ भवन के अधिकारी पत्नी से झगड़ा कर आते हैं और फिर दिन भर कब्ज रहता है। जानकारी के अनुसार चिट्ठी मेडिकल टीचर्स यूनियन सागर के अध्यक्ष सर्वेश जैन और सचिव शैलेंद्र पटेल ने लिखी है। पत्र में उन्होंने लिखा है, यह देखा गया है कि वल्लभ भवन और सतपुड़ा भवन के अधिकारी अक्सर उनकी पत्नी से झगड़ा करके आते है और दिन भर कब्ज से पीड़ित रहते हैं।  इसी वजह से वे दिन भर फर्जी फैसले लेते हैं। ऐसा ही एक निर्णय तत्कालीन अपर मुख्य सचिव मप्र शासन द्वारा लिया गया था. जिसमें चिकित्सा शिक्षा विभाग को सातवां वेतनमान 2018 से दिया गया था, जबकि मप्र शासन के शेष विभागों में जनवरी 2016 से दिया गया है।'

आपको बता दें कि सूचना मिलने के बाद मेडिकल टीचर से मिलने गए पूर्व एसीएस ने कहा ''डॉक्टर, मैं सस्पेंड नहीं करूंगा, सीधे मेडिकल रजिस्ट्रेशन रद्द कर दूंगा।" बयान में कहा गया है कि ऐसे अधिकारियों को मनोवैज्ञानिक परामर्श दिया जाना चाहिए। साथ ही व्हाट्सएप पर मोटिवेशनल वीडियो भेजे जाने चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें