खेड़ा : मोबाइल पर गेम खेलने को एक भाई ने किया दुसरे भाई का क़त्ल

(Photo Credit : IANS)

नाबालिक बच्चे ने चचेरे भाई के सर पर पत्थर से वार कर उसकी हत्या कर दी और फिर लाश को पास के एक कुएं में फैंक दिया

आज के समय मोबाइल हमारे जीवन में ऐसे घुस चुका है कि लोग हर काम में फोन अपने साथ रखते है।माँ बाप भी अपने बच्चे का ध्यान भटकने और उसे किसी चीज में उलझाये रखने के लिए उसे मोबाइल दे देता हैं। ऐसे में बच्चों को गेम खेलने के लिए मोबाइल फोन देने वाले अभिभावकों के लिए खेड़ा जिले में एक चेतावनी समान मामला सामने आया है। जहाँ एक भाई ने मोबाइल में गेम खेलने के लिए अपने भाई की ही हत्या कर दी। 
मिली जानकारी के अनुसार बड़े भाई ने मोबाइल पर गेम खेलने को लेकर गुस्से में छोटे भाई की हत्या कर दी। खेड़ा के गोबलेज गांव में एक नाबालिक लड़का अपने चचेरे भाई के मोबाइल गेम खेलने से परेशान था। इसी बात को ध्यान में रखते हुए बड़े भाई ने छोटे भाई के सिर पर पत्थर मारकर उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के बाद उसके हाथ और पैर बांध दिए और पास के एक कुएं में फेंक दिया। काफी समय बाद भी जब बच्चा घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी तलाश की और खेड़ा टाउन थाने में शिकायत दर्ज कराई। जहाँ जाँच के दौरान बच्चे की लाश मिली। मृतक नाबालिग बच्चे की उम्र 11 साल है और हत्या करने वाले चचेरा भाई भी नाबालिग बताया जा रहा है। खेल खेलते समय भाई की हत्या करने वाले इस मामले से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।
गौरतलब है कि ये अपने आप में कोई पहला मामला नहीं हैं। हम आये दिन ऐसे मामलों से रूबरू होते रहते है। आये दिन हम सुनते है कि मोबाइल और ऑनलाइन गेम खेलने के लत में ये नाबालिक बच्चे कोई बड़ा कदम उठा लेते हैं। कभी कभी ये मासूम किसी और को बड़ा नुकसान पहुंचा देते है तो कभी कभी खुद को ही ख़त्म कर लेते हैं। फिलहाल एक बात तो साफ है कि छोटे बच्चों के लिए मोबाइल एक दानव बन चुका है और अभिभावकों को इसको लेकर बहुत सतर्क रहने की आवश्यकता है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें