आदिवासी महिलाओं द्वारा संचालित पेवर ब्लॉक से सडक का उद्घाटन

कलडवास से मुख्य आयड नदी तक का मार्ग बनाया गया

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा स्थापित एवं सखी प्रेरणा फेडरेशन महिला समूह द्वारा संचालित पेवर ब्लॉक इकाई का नेतृत्व केवल करगेट गांव में आदिवासी महिलाएं करती हैं।

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा स्थापित सखी प्रेरणा फेडरेशन महिला समूह द्वारा संचालित पेवर ब्लॉक इकाई 
हिंदुस्तान जिंक ग्रामीण एवं आदिवासी क्षेत्र के विकास हेतु दृढ़ संकल्पित है कंपनी की पहली प्राथमिकता आस पास के समुदाय के लोगो, कर्मचारी, व्यावसायिक भागीदार का हित है। हिन्दुस्तान जिंक द्वारा स्थापित एवं सखी प्रेरणा फेडरेशन महिला समूह द्वारा संचालित पेवर ब्लॉक इकाई का नेतृत्व केवल करगेट गांव में आदिवासी महिलाएं करती हैं। इन आदिवासी महिलाओं द्वारा संचालित इकाई के पेवर ब्लॉक से निर्मित कलडवास से मुख्य आयड नदी तक 600 मीटर सडक का निर्माण किया गया है।
इस इकाई की स्थापना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्तिकरण करना है। इस इकाई से उन विशेषकर देबारी में आदिवासी समुदाय को लाभ होगा, जिनके पास आय का अन्य प्रमुख स्रोत नहीं है। इस पेवर ब्लॉक निर्माण इकाई में प्रति दिन उच्च गुणवत्ता के 3 हजार पेवर ब्लॉक बनाने की क्षमता है और इसका संचालन सखी महिलाओं द्वारा किया जाएगा। मशीन को संचालित करने के लिए सभी महिलाओं को मशीनरी, विभिन्न उपकरणों और निर्माण ब्लॉकों की प्रक्रिया पर पूरी तरह से प्रशिक्षित किया गया है। 
कलडवास से मुख्य मार्ग आयड नदी तक इससे पूर्व कच्चा रास्ता था जिससे ग्रामीणों को विशेष तौर पर बरसात में असुविधा का सामना करना पड़ता था। हिन्दुस्तान जिं़क देबारी जिंक स्मेल्टर द्वारा निर्मित इस पेवर ब्लॉक सड़क के साथ ही दोनो तरफ नाली का निर्माण, रिफ्लेक्टर्स एवं सुरक्षा लाईन एवं जेब्रा क्रोसिंग भी बनाई गयी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें