गुजरातः "सखी" वन स्टॉप सेंटर के माध्यम से मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला का परिवार के साथ सुखद मिलन

विक्षिप्त महिला का परिवार के साथ सुखद मिलन

वीरमदल गाँव की एक अज्ञात द्वारा 181 अभयम महिला हेल्पलाइन से संपर्क किया गया

जामनगर जिले के चेला गाँव में रहने वाली मानसिक रूप से पीड़ित महिला ने 04/04/2021 को दोपहर को किसी को बताए बिना अपना घर छोड़ दिया और खंभालिया तालुका के विरमदल गाँव आ गई। इस दौरान वीरमदल गाँव की एक अज्ञात द्वारा 181 अभयम महिला हेल्पलाइन से संपर्क किया गया। महिला के पास कोई संपर्क नंबर नहीं होने से तथा  उसे आश्रय की जरूरत होने से  उसे "सखी" वन स्टॉप सेंटर में  लाया गया था और उसे केंद्र में आश्रय दिया गया था।  इस दौरान  पता चला था कि वह जामनगर  जिला के दरेड गाम की निवासी है। इसके बाद  द्वारका जिला के  महिला और बाल अधिकारी और दहेज निषेध सहायक संरक्षण अधिकारी के मार्गदर्शन में, "सखी" वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों ने दरेड गांव के सरपंच से संपर्क किया और पता चला कि महिला जामनगर के चेला गाँव के मूल निवासी। साथ ही पीड़िता के भाई से बात की और सखी वन स्टाप सेन्टर पर बुलाया। भाई ने बताया कि  बहन का कुछ साल पहले इलाज किया गया था और उसकी मानसिक स्थिति लगभग 12 वर्ष से ठीक नहीं है।  इसलिए वह अक्सर घर से चली जाती है। पीड़ित परिवार ने "सखी" वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों को धन्यवाद दिया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें