गुजरात : सयाजी अस्पताल कोरोना टीका केन्द्र में 10 माह में 35 हजार लोगों का किया गया टीकाकरण

100 करोड़ टीकाकरण का जश्न मनाया गया...

पल्लवीबेन और सपनाबेन इन दो स्वास्थ्यकर्मियों ने आदमी से लेकर शाही परिवार तक सभी को टीका लगाया

 मध्य गुजरात के सबसे बड़े सरकारी सयाजी अस्पताल के परिसर में 100 करोड़ करोड के टीकाकरण की राष्ट्रीय उपलब्धि के अवसर पर स्वास्थ्य परिवार ने गुरुवार को नवरात्रि पर्व की तरह  मनाई। डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने इस उपलब्धि को माताजी को समर्पित किया। उन्होंने हाथों में मास्क, सेनेटाइजर की बोतलें और कोरोना वैक्सीन वायल हाथ में लेकर गरबा किया। साथ ही मिठाइयां बांटकर सभी का  मुंह मीठा कराया।
सह प्राध्यपक डॉ. बेलीम ओ.बी ने कहा कि हमारे अस्पताल में पिछले 10 महीने से कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। उन्होंने जिन लोगों ने अभी तक टीका नहीं लगाया है, उन्हें अपनी जान बचाने के लिए टीका लगवाने की अपील की है। "हमारे केंद्र में  पहली और दूसरी खुराक मिलाकर कुल 35 हजार टीका लगाया गया है। 20,000 लोगों ने पहली खुराक ली है और 15,000 लोगों ने दूसरी खुराक ली है और वैक्सीन लेकर सुरक्षित हुए है। 
नर्सिंग स्टाफ की पल्लवी परमार और सपना शाह पहले दिन से टीकाकरण सेवाएं प्रदान कर रही हैं और उन्होंने वडोदरा के शाही परिवार के सदस्यों, तत्कालीन मंत्रियों, विधायकों, पदाधिकारियों और प्रशासन और पुलिस व्यवस्था के वरिष्ठ अधिकारियों का टीकाकरण किया है। ऐसे कर्मयोगियों के परिणाम स्वरुप टीकाकरण सफल हुआ है। जिससे संभावित तीसरी लहर को विलंबित कर सके है। वडोदरा में पिछले दो दिनों से कोरोना के जीरो पॉजीटिव केस हैं। हमारे 700 से ज्यादा बेड वॉर्ड बंद कर दिए गए हैं। टीका लगाने वाले ऐसे समर्पित कर्मयोगियों एवं सतत टीका प्रदान करने वाली राज्य सरकार, भारत सरकार के कारण यह संभव हो पाया है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें