गुजरातः कोरोना काल में दो माह में टंकारा 108 टीम ने 230 मरीजों की मदद की

टंकारा 108 टीम

इस कठिन समय में टंकारा 108 की टीम ने रोजाना औसतन 4 मरीजों को मोरबी, राजकोट या जामनगर पहुंचाया

मार्च और अप्रैल में जब कोरोना अपने चरम पर था तब खडेपांव टंकारा 108 टीम द्वारा सतत प्रयास कर 230 मरीजों की खड़ेपांव सेवा के लिए तैनात थे। इस कठिन समय में टंकारा 108 की टीम ने रोजाना औसतन 4 मरीजों को मोरबी, राजकोट या जामनगर पहुंचाया।
कोरोना महामारी की दूसरी लहर मोरबी जिले में विशेष रूप से मार्च और अप्रैल में  कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़ी, इन दो महीनों के दौरान दिन-रात 108 एम्बुलेंस दौड़ती थीं और कुल 230 रोगियों को इलाज के लिए स्थानांतरित किया गया था।
टंकारा तालुका में, 108 टीम पर्यवेक्षक विराट पांचाल, कार्यक्रम प्रबंधक बिपिन भेटारिया, पायलट सलीम भुंगर, ईएमटी रुबियाबेन, वल्लभभाई, इकबालभाई, पायलट छेल्लूभाई संघानी, पायलट केतन सिंह और अन्य कोरोना योद्धा 24 घंटे आपातकाल को सार्थक करते नजर आते रहे।  संकट के दो महीने के दौरान हर दिन औसतन चार मरीजों की जान बचाने के लिए लगातार 108 की टीम दौड़ती  थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें